International

Special Report: आसियान के 1,000 छात्रों को IIT में स्कॉलरशिप

भारतीय छात्र
फाइल फोटो

नई दिल्ली। दक्षिण पूर्व एशियाई देशों के संगठन  आसियान के दस सदस्य देशों के होनहार छात्रों के लिये भारत के 23 आईआईटी संस्थानों में पीएचडी करने की स्कालरशिप  शुरू करने का ऐलान यहां विदेश मंत्री एस जयशंकर ने एक समारोह में किया। इसके तहत आसियान देशों के एक हजार छात्रों को भारत में शोध-अध्ययन करने का मौका मिलेगा।





इस समारोह में आसियान के सभी 10 सदस्यों के राजदूत मौजूद थे। आसियान के सदस्य देशों ने भारत की इस पहल का  स्वागत किया है औऱ कहा है कि इससे भारत और आसियान देशों के बीच सहयोग का रिश्ता औऱ मजबूत होगा औऱ इससे आसियान देशों में भारत को  लेकर सद्भावना बढ़ेगी।

इस स्कालरशिप का ऐलान करते हुए विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा कि यह भारत का  विदेशों में क्षमता निर्माण का यह  सबसे बडा कार्यक्रम है।  हम इस कार्यक्रम के शुरू होने की हम उत्सुकता से प्रतीक्षा कर रहे थे। जयशंकर ने कहा कि स्कालरशिप  देने का ऐलान   प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारत- आसियान शिखर बैठक के दौरान किया था।  इससे विज्ञान एवं तकनीक के अग्रणी क्षेत्रों में साझा शोध को बढावा मिलेगा। उन्होंने कहा  कि हम भारत मे आईआईटी को सर्वाधिक महत्व देते हैं।  हम इसके दरवाजे विदेशियों के लिय़े भी खोलना चाहते हैं।

इस मौके पर मानव संसाधन विकास मंत्री निशंक ने बताया कि इस पूरे कार्यक्रम के लिये 300 करोड़ रुपए का बजट रखा गया है।  इसके तहत मिलने वाली स्कालरशिप पांच साल के लिये छात्रों का पूरा खर्च वहन करेगी।

गौरतलब है कि भारत ने आसियान देशों के साथ रिश्ते प्रगाढ़ करने के लिए एक्ट ईस्ट नीति चलाई है जिसके तहत इसके दस सदस्य देशों के साथ विशेष सामरिक, आर्थिक व व्यापारिक रिश्तों को प्रगाढ़ किया जा रहा है।

Comments

Most Popular

To Top