International

द. कोरिया का दावा: उत्तर कोरिया ने दागी मिसाइल

नॉर्थ-कोरिया

सोल। दक्षिण कोरिया की सेना ने दावा किया है कि उत्तर कोरिया ने आज (4 जुलाई) एक और बैलिस्टिक मिसाइल दागी है। सोल के नए नेता मून जे-इन और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के अपने शिखर सम्मेलन में प्योंगयांग से उत्पन्न होने वाले खतरे पर ध्यान केंद्रीत करने के एक दिन बाद ही यह मिसाइल दागी गई है।





उकसावे की कार्रवाई में इस ताजा मिसाइल प्रक्षेपण ने परमाणु हथियारों से सशक्त उत्तर कोरिया के लक्ष्यों से उत्पन्न होने वाले तनाव को और बढ़ा दिया है। दक्षिण कोरिया सेना ने अपने एक बयान में कहा कि यह अज्ञात बैलिसिटिक मिसाइल उत्तर प्योंगान प्रांत के बैंगयोन के नजदीक एक स्थल से दागी गई, जो पूर्वी सागर में आ गिरी।

जापान ने AFP न्यूज एजेंसी को बाताया

जापान के रक्षा मंत्रालय की एक प्रवक्ता ने एएफपी को बताया कि उपकरण शायद जापान विशेष आर्थिक क्षेत्र में आ गिरा, जिससे पानी इसके तट से 200 नॉटिकल मील दूर तक फैल गया।

मई में मून के सत्ता में आने के बाद से ही प्योंगयांग ने कई मिसाइल दागी हैं। मून ने उत्तर कोरिया के साथ बातचीत का समर्थन किया है लेकिन साथ ही प्रतिबंधों की आवश्यकता पर भी जोर दिया है।

आखिरी वीक में हुए शिखर सम्मेलन में ट्रम्प ने घोषणा की थी कि उत्तर कोरिया की हथियार मुहिम पर उनका सब्र अब खत्म हो गया है। इनमें अमेरिकी भूमिका पर वार करने में सक्षम मिसाइल विकसित करना भी शामिल है। ट्रम्प ने कहा कि हम एक साथ उत्तर कोरिया के क्रूर शासक के खतरे का सामना कर रहे हैं। इस शासन ने परमाणु एवं बैलिस्टिक मिसाइल कार्यक्रमों पर कड़ी प्रतिक्रिया देने की आवश्यकता है।

उत्तर कोरिया के हरकतों पर ट्रम्प का ट्वीट:

इस पर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने मजाक उड़ाते ट्वीट करके बताया कि उत्तर कोरिया ने हाल ही में एक मिसाइल का परीक्षण किया है। क्या उनके पास उनकी लाइफ में इससे अच्छा करने के लिए कुछ नहीं है।यह मानना मुश्किल है कि दक्षिण कोरिया और जापान इसे बहुत लंबे समय तक साथ रखेंगे। शायद चीन उत्तरी कोरिया के ऊपर कोई एक्शन लेगा। साथ ही इस सब बकवास को खत्म करेगा।

Comments

Most Popular

To Top