International

डोजियर तो बना लिया फैसले की कापी अभी तक नहीं दी

कुलभूषण जाधव-गोपाल बागले

नई दिल्ली/इस्लामाबाद। सेवानिवृत्त भारतीय नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान की सैन्य अदालत द्वारा मौत की सजा सुनाए जाने के मामले में भारत को अभी तक आरोप पत्र की प्रमाणित प्रति नहीं मिली है।





प्राप्त खबरों के मुताबिक पाकिस्तान ने जाधव (46) की कथित आतंकवादी गतिविधियों के बारे में एक नया दस्तावेज (डोजियर) तक तैयार कर लिया है और वह इसे संयुक्त राष्ट्र और विदेशी राजनयिकों के साथ साझा भी करने जा रहा है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने कहा, “हमने पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय (पाकिस्तान के) से आरोप पत्र और जाधव की मौत की सजा का जो फैसला सुनाया गया है, उसकी प्रमाणित प्रति मांगी है, लेकिन अभी तक पाकिस्तान की ओर से कोई जवाब नहीं आया है।”

भारत पहले ही घोषणा कर चुका है कि वह जाधव की मौत की सजा के खिलाफ अपील करेगा। इसी सिलसिले में इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायुक्त गौतम बंबावाले ने इस मामले में शुक्रवार को पाकिस्तान की विदेश सचिव तहमीना जंजुआ से मिलकर आरोप पत्र और फैसले की प्रमाणित प्रति की मांग करने के अलावा जाधव को कोंसुलर एक्सेस देने की मांग की।

खबरों के मुताबिक पाकिस्तानी दस्तावेज कराची और बलूचिस्तान में जासूसी और तोड़फोड़ की गतिविधियों में कथित रूप से शामिल होने के बारे में फील्ड जनरल कोर्ट मार्शल के सामने पेश किए गए जाधव के प्रारंभिक साक्ष्य और बयान पर आधारित है।

Comments

Most Popular

To Top