International

उत्तर कोरिया एक महीने के अंदर यूएस पर परमाणु मिसाइल से कर सकता है हमला: CIA

उत्तर कोरियन मिसाइल
उत्तर कोरियन मिसाइलें (फाइल)

वाशिंगटन। अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए के निदेशक ने कहा कि उन्हें इस बात की चिंता है कि उत्तर कोरिया के पास ऐसे न्यूक्लियर मिसाइल हैं, जिससे वह एक महीने के भीतर अमेरिका पर हमला कर सकता है। सीआईए डायरेक्टर माइक पॉम्पिओ ने एक इंटरव्यू में कहा कि उनकी खुफिया एजेंसी लगातार प्योंगयांग और उसके नेता किम जोंग-उन से संभावित खतरों पर चर्चा करती है।





CIA मुख्यालय में माइक पॉम्पिओ ने एक इंटरव्यू में कहा कि हम उनकी एक महीने के अंदर अमेरिका पर परमाणु हथियारों से हमला करने की क्षमता के बारे में चर्चा करते हैं। हमारा कार्य अमेरिका के राष्ट्रपति तक इस बारे में खुफिया जानकारी पहुंचाना है ताकि उनके पास इस जोखिम को गैर-कूटनीतिक तरीके से कम करने के विकल्प हों।

पॉम्पिओ ने यह भी माना कि उत्तर कोरिया पर दवाब डालने के नतीजे के तौर पर इस क्षेत्र में जीवन को भयंकर नुकसान हो सकता है, जहां अमेरिका के दो अहम सहयोगी देश जापान और दक्षिण कोरिया भी हैं। पॉम्पिओ ने कहा कि अगर किम जोंग उन को हटाने की कोशिश हुई या फिर अमेरिका पर परमाणु हमले की उसकी क्षमता को सीमित करने का प्रयास हुआ तो इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं।

ट्रंप के कार्यकाल के पहले वर्ष में प्योंगयांग के साथ तनाव को बढ़ाया है। इसमें दोनों देशों के नेताओं के एक-दूसरे पर निजी हमले भी शामिल हैं। राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा था कि अगर उत्तर कोरिया अपने परमाणु कार्यक्रम पर लगाम नहीं लगाता है तो उसके इसके परिणाम भुगतने होंगे। इसके अलावा किम ने भी डॉनल्ड ट्रंप के लिए दुष्ट और सठियाया जैसे भद्दे शब्दों का प्रयोग किया था।

दोनों देशों के नेताओं के बीच जुबानी जंग ज्यादा बढ़ने के बाद उत्तर कोरिया ने कई मिसाइलों के परीक्षण भी किए जिसने पश्चिम में चिंताएं बढ़ाई और तनाव भी पैदा किया। वर्ष 2017 में उत्तर कोरिया ने कम से कम 20 बैलिस्टिक मिसाइलों का टेस्ट किया, जिसमें से 3 इंटरकंटिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइलों के टेस्ट थे। अंतर्राष्ट्रीय समुदाय ने उत्तर कोरिया के लगातार मिसाइल परीक्षणों के जारी रहने की वजह से उसपर कई आर्थिक प्रतिबंध भी लगाए हैं।

 

Comments

Most Popular

To Top