DEFENCE

दुनिया के नौ देशों के पास 16300 परमाणु बम, रूस के पास सबसे ज्यादा

नई दिल्ली: स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट की रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि दुनिया के नौ देशों के पास 16300 परमाणु बम हैं, जो पूरी दुनिया को खत्म करने के लिए काफी हैं। आइये हम आपको बताते हैं कि किन देशों के पास कितने परमाणु बम हैं।





बात यदि भारत की करें तो इसके पास अमेरिका के एमओएबी और रूस के एफओएबी से इतर स्पाइस नामक सबसे बड़ा पारंपरिक बम है। यह भारत का सबसे ताकतवर गैर-परमाणु बम है। इसका वास्तविक नाम ‘स्मार्ट प्रिसाइज इम्पेक्ट एंड कॉस्ट इफेक्टिव’ (SPICE) है, जो भारतीय वायु सेना (Air force) के जखीरे का सबसे बड़ा पारंपरिक बम है।

भारत के पास स्पाइस परमाणु बम है

करीब 900 किलो के इस बम को इजरायल की कंपनी रफेल एडवांस्ड डिफेंस सिस्टम्स लिमिटेड ने बनाया है। इसे भारतीय वायुसेना के फाइटर जेट मिराज 2000 और सुखोई-30 एमकेआई लड़ाकू विमानों से गिराया जाता है। इसके अलावा भारत के पास पांच सौ किलोग्राम वजन वाला हाई स्पीड, ले ड्रैग बम भी है। भारत ने 1974 के बाद दूसरी बार 1998 में दूसरा सफल परीक्षण किया। भारत के पास 110 परमाणु बम है।

चीन और पाकिस्तान के साथ सीमा विवाद के बावजूद भारत ने वादा किया है कि वह पहले परमाणु हमला नहीं करेगा। साथ ही भारत का कहना है कि वह परमाणु हथियार विहीन देशों के खिलाफ भी इनका प्रयोग नहीं करेगा।

पाकिस्तान 

रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान के पास 120 परमाणु बम हैं। जो कि भारत से 10 ज्यादा है। पाकिस्तान ने पहली बार 1998 में परमाणु बम का परीक्षण किया था।

रूस

रूस के मुताबिक परमाणु हथियारों की संख्या के मामले में रूस सबसे आगे है। 1949 में पहली बार परमाणु परीक्षण करने वाले रूस के पास 8,000 परमाणु हथियार हैं।

अमेरिका


1945 में पहली बार परमाणु परीक्षण के कुछ ही समय बाद अमेरिका ने जापान के हिरोशिमा और नागासाकी शहरों पर परमाणु हमला किया। सिप्री के मुताबिक अमेरिका के पास आज भी 7,300 परमाणु बम हैं। अमेरिका के पास एमओएबी जैसे बड़े परमाणु बम भी हैं।

फ्रांस

यूरोप में सबसे ज्यादा परमाणु हथियार फ्रांस के पास हैं। उसके एटम बमों की संख्या 300 बताई जाती है। परमाणु बम बनाने की तकनीक तक फ्रांस 1960 में पहुंचा।

चीन

दुनिया की सबसे बड़ी थल सेना वाले चीन की असली सैन्य ताकत के बारे में पुख्ता जानकारी उसके अलावा और किसी के पास नहीं है। लेकिन अनुमान है कि चीन के पास 250 परमाणु बम हैं। चीन ने 1964 में पहला परमाणु परीक्षण किया।

ब्रिटेन

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के स्थायी सदस्य ब्रिटेन ने पहला परमाणु परीक्षण 1952 में किया। अमेरिका के करीबी सहयोगी माने जाने वाले ब्रिटेन के पास 225 परमाणु हथियार हैं।

इस्रायल

1948 से 1973 तक तीन बार अरब देशों से युद्ध लड़ चुके इस्रायल के पास करीब 80 नाभिकीय हथियार हैं। इस्रायल के परमाणु कार्यक्रम के बारे में बहुत कम जानकारी सार्वजनिक है।

उत्तर कोरिया

पाकिस्तान के वैज्ञानिक अब्दुल कादिर खान की मदद से परमाणु तकनीक हासिल करने वाले उत्तर कोरिया के पास कम से कम छह परमाणु हथियार हैं। उत्तर कोरिया का असली विवाद दक्षिण कोरिया से है। तमाम प्रतिबंधों के बावजूद 2006 में उत्तर कोरिया ने परमाणु परीक्षण किया।

पिछले कुछ समय से लगातार उत्तर कोरिया मिसाइलों का परीक्षण भी कर रहा है। अमेरिका ने भी उत्तर कोरिया को चेतावनी दी है लेकिन वह अब भी बाज नहीं आ रहा है और नए मिसाइलों के परीक्षण की तैयारी कर रहा है।

पाकिस्तान से ज्यादा बड़ी फौज है भारत के पास

पाकिस्तान ने अमेरिका को बताया है कि वह भारत की तुलना में अपने पारंपरिक हथियारों के जखीरे में अंतर को भी कम करना चाहता है। लेकिन आंकड़े बताते हैं पाकिस्तान अभी हमारी फौजी ताकत के आगे कहीं नहीं टिकता।

                                      भारत                  पाकिस्तान

एक्टिव फौजी                      13.25 लाख        6.17 लाख

विमान                              1905                914

लड़ाकू विमान                        761                387

हेलिकॉप्टर                           584                313

सभी तरह के टैंक                  6464              2924

युद्धपोत                               202                  74

विमानवाहक पोत                       2                    0

पनडुब्बी                               15                    8

सालाना रक्षा बजट                 2.46 लाख करोड़    70 हजार करोड़

भारत की सबसे ताकतवर मिसाइल अग्नि-5, रेंज 5000 किमी

पाकिस्तान की सबसे ताकतवर मिसाइल शाहीन, रेंज-3, 2750 किमी रेंज

एक बार में एक से ज्यादा रॉकेट लॉन्च करने वाले सिस्टम भारत के पास 292 हैं जबकि पाकिस्तान के पास 197

Comments

Most Popular

To Top