International

ट्रंप के इस फैसले से भड़के कई देश, जानें 9 खास बातें

वाशिंगटन। चौतरफा विरोध और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय की चेतावनियों की परवाह न करते हुए अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने यरुशलम को इजरायल की राजधानी के रूप में मान्यता दे दी। अब अमेरिका अपने दूतावास को यरुशलम स्थानांतरित कर देगा। अभी अमेरिका और अन्य देशों के दूतावास तेल अवीव में हैं। डोनाल्ड ट्रंप के इस फैसले से इजरायल में खुशी की लहर है लेकिन अंतर्राष्ट्रीय बिरादरी में इस फैसले से चिंता है। कई मानते हैं कि इससे पश्चिम एशिया में हिंसा भड़क सकती है।





अमेरिकी नीति से उलट कदम

डोनाल्ड ट्रंप के इस कदम को जानकार अमेरिका की 70 वर्ष पुरानी विदेश नीति से उलट मान रहे हैं। उलट इसलिए कि गत कई वर्षों से अमेरिका के पूर्ववर्ती प्रशासकों ने अशांति के डर से ऐसा कदम नहीं उठाया था। वैसे भी गत वर्षों में अमेरिका का रुख यही रहा है कि यरुशलम का भविष्य इजरायल और फलस्तीन बातचीत के जरिए तय करें।

Comments

Most Popular

To Top