International

मैनचेस्टर हमला : हमलावर के अलकायदा से रिश्ते, भाई और पिता गिरफ्तार

सलमान आबेदी के पिता और उसका छोटा भाई हाशेम आबेदी

मैनचेस्टर। पाप सिंगर एरियाना ग्रांडे के कंसर्ट के दौरान बम ब्लास्ट कर मंगलवार को 22 निर्दोष लोगों की जान लेने वाले हमले से जुड़ी जानकारियां जहां इंटरनेट पर लीक हो जाने के कारण अमेरिकी विभागों को फटकार पड़ी है, वहीं आत्मघाती हमलावर 22 वर्षीय सलमान अबेदी के बड़े भाई को उसके घर से तथा पिता को लीबिया से गिरफ्तार किया गया है। अमेरिकी खुफिया विभाग के अधिकारियों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार अबेदी की पहचान उसके बैंक कार्ड के आधार पर की गई जो घटनास्थल पर मिला था। इसके बाद चेहरे पहचानने वाली तकनीक से उसकी पहचान की गई। अबेदी का परिवार लीबिया का है।





सलमान आबेदी

मैनचेस्टर में हुए हमले का मुख्य आरोपी सलमान अबेदी (यह आत्मघाती हमलावर था जो मौके पर ही मारा गया था)

अलकायदा से था डायरेक्ट कनेक्शन

अबेदी पिछले बारह माह में जिन देशों में गया उनमें से एक लीबिया है और उसके अलकायदा के साथ स्पष्ट रूप से संबंध रहे हैं। उसके परिवार के सदस्यों का कहना है कि वह एक खतरनाक शख्स था। उसने जिस बम का इस्तेमाल इस घटना के लिए किया उसमें लगाई जाने वाली सामग्री ब्रिटेन में बामुश्किल ही उपलब्ध होती है, इसके लिए जरूर उसने किसी की मदद ली होगी। ब्रिटिश पुलिस को शक है कि मैनचेस्टर के अन्य लोग भी इसमें शामिल हो सकते हैं। पुलिस इसकी लगातार छानबीन कर रही है।

बड़े भाई से पूछताछ जारी

पुलिस हमलावर सलमान अबेदी की पृष्ठभूमि पर ध्यान केंद्रित कर रही है। हमले के सिलसिले में बुधवार को गिरफ्तार एक महिला को आरोप साबित न होने पर रिहा कर दिया गया है, जबकि अन्य छह लोगों से अभी पूछताछ जारी है। इनमें से एक अबेदी का 23 वर्षीय भाई इस्माइल अबेदी है।

 

घटनास्थल से प्राप्त डेटोनेटर के बारे में कहा जा रहा है कि इसे अमेरिकी खुफिया विभाग द्वारा शेयर किया गया।

छोटे भाई को थी हमले की जानकारी

सलमान अबेदी के पिता और उसके छोटे भाई हाशेम अबेदी को लीबिया से गिरफ्तार किया गया है। लीबिया अधिकारियों का दावा है कि हाशेम को इस योजनाबद्ध हमले के बारे में पता था। बताया जा रहा है कि सलमान अबेदी को लेकर एक अज्ञात मुस्लिम समुदाय के कार्यकर्ता ने कुछ समय पहले दो बार ग्रेटर मैनचेस्टर पुलिस से संपर्क किया था। हालांकि इस बात को ग्रेटर मैनचेस्टर पुलिस ने नकार दिया है।

अमेरिका ने लीक की हमले की गोपनीय जानकारियां 

अमेरिकी विभागों द्वारा मैनचेस्टर हमले की जांच से जुड़ी गोपनीय जानकारियां लीक होने के बाद ब्रिटिश अधिकारियों में काफी आक्रोश है। जिसके लिए ब्रिटेन के होम सेक्रेटरी आम्बेर रुड ने अमेरिका के गृहमंत्रालय और अन्य खुफिया एजेंसियों को फटकार लगाई है।

हमले के बाद घटनास्थल से प्राप्त न्यूयॉर्क टाइम्स में प्रकाशित तस्वीरें

ब्रिटेन-अमेरिका के बीच बढ़ी कड़वाहट, अधिकारियों को पड़ी फटकार

ब्रिटिश अमेरिकी खुफिया विभाग के अधिकारियों में इस हमले को लेकर काफी क्रोध है। दरअसल, न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपराध स्थल से बम के कुछ हिस्सों के फोरेंसिक फोटो अपने अखबार में प्रकाशित कर दिए थे। ब्रिटेन का कहना है कि इन्हें अमेरिकी अधिकारियों द्वारा शेयर किया गया था। अधिकारियों को डर है कि हमले को लेकर चल रही जांच की जानकारियां लीक होना जांच को और भी मुश्किल कर सकता है। ये तस्वीरे पीड़ितों और उनके परिवारों और आम जनता को विचलित करने वाली हैं। इस मामले ने उनके बीच कड़वाहट पैदा की है।

डोनाल्ड ट्रम्प के सामने प्रधानमंत्री रखेंगी ये मुद्दा

प्रधानमंत्री थेरेसा मे आज ब्रसेल्स में नाटो श्खिर सम्मेलन की यात्रा पर हैं, जहां वह अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प से मुलाकात करने वाली हैं। वहां उनसे इस मुद्दे पर बातचीत करेंगी। ब्रिटिश पुलिस इस बात को लेकर स्पष्ट है कि वह सूचनाओं के प्रवाह को नियंत्रित करना चाहता है। आपको बता दें ब्रिटेन की राष्ट्रीय आतंकवाद विरोधी पुलिस ने इस लीक की कड़ी आलोचना की थी। हमला पीड़ितों के लिए आज ग्यारह बजे एक राष्ट्रव्यापी मौन रखा गया।

एरियाना ग्रांडे ने टाला यूरोपियन टूर

पॉप सिंगर एरियाना ग्रांडे

एरियाना ग्रांडे के म्यूजिक कंसर्ट के दौरान ही ये हमला हुआ

आपको बता दें कि ये हमला उस वक्त हुआ जब पॉप सिंगर एरियाना मैनचेस्टर के अरीना में अपनी लास्ट परफॉर्मेंस दे रही थीं। इस हमले के बाद एरियाना काफी आहत हुई है और उन्होंने ट्विटर पर दुख व्यक्त किया है। एरियाना ग्रांडे ने अपने अगले यूरोपीय दौरे को टाल दिया है। 23 वर्षीय एरियाना फ्लोरिडा में पली-बढ़ी हैं। वह अपनी टीनएज से ही शोबिज का हिस्सा रही हैं। वर्ष 2008 से वह वह संगीत की दुनिया में आर्इं।

Comments

Most Popular

To Top