International

लंदन हमला : एक हमलावर पाकिस्तानी, दो मोरक्को के

लंदन हमला

लंदन। ब्रिटेन की पुलिस ने लंदन में गत शनिवार को हुए चरमपंथी हमले में शामिल दो लोगों के नाम सोमवार को जारी किए थे जबकि तीसरे हमलावर का नाम आज (मंगलवार) जारी किया, वहीं इस हमले के सिलसिले में गिरफ्तार सभी 12 लोगों को बिना कोई आरोप लगाए छोड़ दिया गया है। गिरफ्तार लोगों में सात महिलाएं और पांच पुरुष थे। इन्हें पूर्वी लंदन के बार्किंग इलाके के एक फ्लैट में छापेमारी कर गिरफ्तार किया गया था। यह जानकारी मंगलवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली।





  • ख़ुर्रम बट (27) दो बच्चों का पिता है और पूर्वी लंदन में कई वर्षों से रह रहा था

मेट्रोपालिटन पुलिस की ओर से जारी पहला नाम ख़ुर्रम बट (Khuram Butt-27) का है और वह दो बच्चों का पिता है। वह पूर्वी लंदन में विगत कई वर्षों से रह रहा था। दूसरे हमलावर का नाम Rachid Radouane (30) है। पुलिस का कहना है खुर्रम को पुलिस और MI5 2015 से जानती थी लेकिन उन्हें साजिश का कोई सबूत नहीं मिला था। लेकिन बाक़ी दोनों चरमपंथियों के बारे में सुरक्षा एजेंसियां को कोई जानकारी नहीं थी। तीसरा हमलावर मोरक्को मूल का इटैलियन यौस्सेफ़ ज़घ्बा (22) है। यह जानकारी इटली की खुफिया एजेंसी ने मंगलवार को दी।

  • ज़घ्बा को 2016 में बोलोग्ना हवाई अड्डे से गिरफ्तार किया गया था

ऑनलाइन अखबार कोरिअरे डेला में छपी इस आशय की रपट की पुष्टि करते हुए सूत्र ने कहा कि वह अपने पिता से नाता तोड़ चुका है और उसकी मां उत्तरी इटली में रहती है। ज़घ्बा को साल 2016 में बोलोग्ना हवाई अड्डे से गिरफ्तार किया गया था जब वह तुर्की होते हुए सीरिया जाने का प्रयास कर रहा था। इटली के अधिकारियों ने ज़घ्बा को खतरे की सूची में शामिल किया था और ब्रिटेन को उसकी गतिविधियों के बारे में सूचना दी थी। कोरिअरे के अनुसार, हमले के समय ज़घ्बा लंदन के एक रेस्तरां में काम कर रहा था और इटली में रह रही अपनी मां के बराबर संपर्क में था। गत साल वह अपनी मां से मिलने इटली भी गया था।

  • रशीद का संबंध मोरक्को-लीबिया से

पुलिस के मुताबिक, इन दोनों ने एक वैन किराए पर ली और लंदन ब्रिज पर लोगों पर चढ़ा दी। बाद में उन्होंने बरो मार्केट इलाके में लोगों पर चाक़ू से हमला किया था। ख़ुर्रम बट के बारे में बताया गया है कि उसका जन्म पाकिस्तान में हुआ था और वह ब्रितानी नागरिक था, जबकि रशीद के बारे में बताया गया है कि उसका संबंध मोरक्को-लीबिया से है।

  • तीसरा हमलावर मोरक्को मूल का इटैलियन यौस्सेफ़ ज़घ्बा

सहायक कमांडेंट मार्क रॉली का कहना है कि उनके सहयोगियों की पहचान करने के लिए जांच-पड़ताल जारी है। हमले के दौरान इन दोनों लोगों को और एक अन्य व्यक्ति को पुलिस ने गोली मार दी थी। इस हमले में सात लोग मारे गए थे और 48 अन्य घायल हुए थे।

Comments

Most Popular

To Top