International

इंटरनेशनल कोर्ट में शुरू हो गई कुलभूषण मामले की सुनवाई

कुलभूषण-जाधव

नई दिल्ली। भारतीय नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव को लेकर आज नीदरलैंड में सुनवाई शुरू हो गई। हेग स्थित इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (ICJ) में भारत और पाकिस्तान दोनों अपना पक्ष रख रहे हैं। पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने कुलभूषण को मौत की सजा सुनाई है, जिसके खिलाफ भारत ने इंटरनेशनल कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था।





बताया जा रहा है कि आज की सुनवाई में पाकिस्तान कोर्ट के सामने भारत की मांग को ठुकराते हुए केस रिजेक्ट करने की मांग कर सकता है। इस सिलसिले में पाकिस्तान के अटॉर्नी जनरल और दूसरे अधिकारियों के बीच मीटिंग हुई है। सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तान कोर्ट के सामने कुलभूषण जाधव के कथित कबूलनामे का वीडियो भी पेश कर सकता है।

इंटरनेशनल कोर्ट ने कुलभूषण को लेकर चल रहे विवाद पर भारत और पाकिस्तान से अपना अपना पक्ष रखने को कहा था। आज की सुनवाई में दोनों देश कुलभूषण को लेकर सबूत कोर्ट के सामने पेश करेंगे। बता दें कि भारत पहले ही कह चुका है कि जाधव बेकसूर है और उसे बचाने के लिए हर मुमकिन कोशिश की जाएगी।

16 आवेदनों की अनदखी

भारत ने 8 मई को ICJ में याचिका दायर कर 46 वर्षीय कुलभूषण जाधव के लिए न्याय की मांग की थी। भारत का कहना है कि पाकिस्तान ने पूर्व नौसैनिक अफसर से दूतावास संपर्क के लिए दिए गए 16 आवेदनों की अनदेखी कर विएना संधि का उल्लंघन किया।

 

10 अप्रैल को सुनाई थी फांसी की सजा

पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने जाधव को जासूसी का दोषी बताते हुए फांसी की सजा सुनाई है। पाकिस्तान ने जासूसी के आरोप में उन्हें एक साल से भी ज्यादा समय से हिरासत में रखा है। कुलभूषण जाधव को 10 अप्रैल को फांसी की सजा सुनाई गई थी।

Comments

Most Popular

To Top