International

जानिए, क्यों हुई भारतीय मूल के फौजी को 22 साल की सजा ?

हैरी-ढिल्लन

नई दिल्ली। ब्रिटेन में भारतीय मूल के सैनिक हैरी ढिल्लन को 22 साल की सजा सुनाई गई है। कोर्ट ने उसे पूर्व गर्लफ्रेंड की हत्या के लिए दोषी माना है। ढिल्लन पर आरोप था कि उसने नॉर्थ-ईस्ट इंग्लैंड में लड़की के फ्लैट में घुसकर चाकू से गला काट दिया। पिछले साल अक्टूबर में सैनिक ने हत्या की बात से इनकार किया, लेकिन बुधवार को न्यूकैसल क्रॉउन कोर्ट ने उसे दोषी पाया।





एलिस-रगल्स

पूर्व गर्ल फ्रेंड एलिस रगल्स की हत्या का आरोप

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, लांस कॉरपोरल त्रिमान ‘हैरी’ ढिल्लन (26 साल) पर एलिस रगल्स की हत्या का आरोप था। हत्या के बाद वह एलिस को दिए चॉकलेट और गिफ्ट लेकर भाग गया था।

सैनिक को कमांडिंग अफसर ने लड़की से दूर रहने का आदेश दिया था, फिर भी उसने फोन और लेटर पार्सल किया था। ब्रेकअप के बाद एलिस ने पुलिस को कॉल कर ढिल्लन के व्यवहार के बारे में शिकायत की थी, उसके मुताबिक ब्वॉयफ्रेंड साइको था। जज ने ढिल्लन से कहा कि आपने पहले हत्या की बात से इनकार किया। झूठी कहानी बताई और घढियाली आंसू बहाए। लेकिन अब सबूत मिलने पर सच्चाई सामने आ गई है।

क्या है पूरा मामला?

वकील के अनुसार, 10 अक्टूबर 2016 को ढिल्लन लड़की के घर पहुंचा। रात को खिड़की के रास्ते फ्लैट में दाखिल हुआ और चाकू से उसका गला काट दिया। एलिस और ढिल्लन के बीच लड़ाई-झगड़े की आवाजें पड़ोसियों ने सुनी थी।

खून से सनी एलिस की बॉडी को सबसे पहले साथ रहने वाली दूसरी लड़की ने देखा था। जांच में सामने आया कि ढिल्लन ने लड़की के गले पर चाकू से 6 वार किए। ढिल्लन की एलिस से दोस्ती इंटरनेट के जरिए हुई थी, जब वह अफगानिस्तान में तैनात था।

Comments

Most Popular

To Top