International

इटली ने याद किया भारतीय सैनिकों की कुर्बानी

भारतीय ऑफिसर्स

नई दिल्ली। दूसरे विश्व युद्ध के दौरान शहीद हुए दो भारतीय सैनिकों हरि सिंह औऱ पालू राम की कुर्बानी को याद करने के लिये इटली के फ्लोरेंस शहर के निकट प्राटो में एक सादा समारोह आयोजित किया गया।





दूसरे विश्व युद्ध में इटली को मुक्त कराने में भारतीय सैनिकों के योगदान  को इटली के लोग श्रद्धा के साथ  खूब याद करते है। इटली की मुक्ति के लिये 19 से 22 साल के 50 हजार से अधिक भारतीय सैनिकों  ने लड़ाई लड़ी। 19 सितम्बर, 1943 को पहला भारतीय सैनिक दल नेपल्स के दक्षिण में तोरंतो में पहुंचा  था। तब से 29 अप्रैल, 1945 तक भारतीय सैनिक वहां तैनात रहे।  इस दौरान 5,782 भारतीय सैनिक शहीद हुए।

युद्ध के दौरान शौर्य दिखाने के लिये इस दौरान जो 20 विक्टोरिया क्रास प्रदान किये गए उसमें छह भारतीय थे। इटली के शहरों औऱ गांवों में भारतीय सैनिकों की कुर्बानी को आज भी याद किय़ा जाता है। इटली के कब्रिस्तानों में भारतीय सैनिक दफनाए गए हैं जहां उन्हें पूरे सम्मान के साथ याद किया जाता है।

Comments

Most Popular

To Top