International

पाक पर बढ़ा अमेरिकी दबाव, कहा- आतंकी समूहों के खिलाफ लगातार और स्थायी कदम उठाए

अमेरिकी विदेश मंत्रालय के उप-प्रवक्ता रॉबर्ट पेलाडिनो और इमरान खान

वाशिंगटन। पाकिस्तान के हरकतों के मद्देनजर अमेरिकी विदेश मंत्रालय के उप-प्रवक्ता रॉबर्ट पेलाडिनो ने कहा कि मैं कहना चाहता हूं हमने पाक से आग्रह किया है कि वह आतंकी समूहों के खिलाफ लगातार और स्थायी कदम उठाए ताकि भविष्य में हमले रुकेंगे औरम क्षेत्रीय स्थिरता को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने आगे कहा कि हम फिर से अपील करते हैं कि पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रति अपनी प्रतिबद्धताओं का पालन करे और आतंकियों के शरणस्थल नष्ट कर उनकी फंडिंग पर रोक लगाए।





उधर पाकिस्तान ने दुनिया को दिखाने के लिए प्रतिबंधित समूहों के अब तक 121 सदस्यों को ‘एहतियातन नजरबंद’ किया है। अमेरिकी विदेश मंत्रालय के उप-प्रवक्ता रॉबर्ट पेलाडिनो ने कहा कि जैश के मुखिया आतंकी मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित के सवाल पर सीधा जवाब न देते हुए कहा कि अमेरिका और सुरक्षा परिषद में उसके सहयोगी आतंकी संगठनों और उसके सरगनाओं की संयुक्त राष्ट्र की सूची को अपडेट करना चाहते हैं।

रॉबर्ट पेलाडिनो ने कहा कि जैश और उसके सरगना मसूद अजहर को लेकर हमारा रूख सभी को पता है। जैश-ए-मोहम्मद एक संयुक्त राष्ट्र द्वारा नामित आतंकी समूह है जो कई आतंकी हमलों का जिम्मेदार है और वह क्षेत्रीय स्थिरता के लिए खतरा है। मसूद अजहर JeM का संस्थापक है।

गोपनीयता का हवाला देते हुए पेलाडिनो ने इस मामले पर ज्यादा कुछ नहीं कहा पर यह भी सच है कि हाल ही में ब्रिटेन और फ्रांस के साथ अमेरिका ने भी मसूद को वैश्विक आतंकी घोषित कराने के प्रस्ताव को UNSC में पेश किया है।

Comments

Most Popular

To Top