International

यूएन में चीन ने एकबार फिर आतंकी मसूद अजहर पर अटकाया रोड़ा

जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर
फाइल फोटो

संयुक्त राष्ट्र। चीन ने जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को एक बार फिर बचा लिया है। संयुक्त राष्ट्र में उसे ग्लोबल ट्रेररिस्ट घोषित करने के लिए पेश किए गए प्रस्ताव पर वीटो लगा दिया है। चीन ने यह अड़ंगा चौथी बार लगाया है। इस बात से नाराज संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्यों ने चेतावनी दी कि अगर चीन इसी नीति पर अड़ा रहा तो जिम्मेदार सदस्य परिषद में अन्य कदम उठाने पर मजबूर हो सकते हैं।





उधर भारतीय विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा है कि चीन के इस कदम से निराशा हुई है, आतंकियों के खिलाफ संघर्ष जारी रहेगा।

बता दें कि जैश-ए-मोहम्मद आतंकी गुट के सरगना मसूद अजहर को वैश्यिक आतंकी घोषित कर दिया जाता तो उसकी संयुक्त राष्ट्र के किसी भी सदस्य देश की यात्रा पर रोक लग जाती। अलावा इसके उसकी सारी चल-अचल संपत्ति जब्त कर ली जाती और संयुक्त राष्ट्र से जुड़े देश के लोग किसी भी तरह की मदद नहीं कर पाते।

दस साल में चीन ने कई अड़ंगे डाले हैं। चीन के इसके पहले 2009, 2016, 2017 और 2018 में भी रोड़ा अटका चुका है।

गौरतलब है कि मसूद अजहर 1999 में कंधार विमान हाईजैक के दौरान छोड़े जाने के बाद नासूर बना हुआ है। वह भारत की संसद पठानकोट एयरबेस, उड़ी सैन्य शिविर समेत देश के कई हिस्सों में हमले का साजिशकर्ता है और 14 फरवरी को पुलवामा में CRPF के काफिले पर आत्मघाती हमला भी उसी ने करवाया है।

Comments

Most Popular

To Top