International

‘भारत में कहीं भी करवा सकते हैं हमले’

हिजबुल प्रमुख सैयद सलाउद्दीन

नई दिल्ली। पाकिस्तान में जहां हमेशा से ये दावा करता आ रहा है कि उसकी जमीं से सीमा पार आतंकवाद को बढ़ावा नहीं दिया जा रहा है, लेकिन हर बार उसकी पोल खुल ही जाती है। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अमेरिकी दौरे से ठीक पहले डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन द्वारा वैश्विक आतंकी घोषित किए गए सैयद सलाउद्दीन ने पाकिस्तान के एक टीवी चैनल पर खुलेआम स्वीकार किया है कि उसने और उसके आतंकी संगठन ने पाकिस्तान की मदद से भारत में आतंकी हमले किए हैं।





टीवी चैनल को दिया था इंटरव्यू

पाकिस्तान के जियो टीवी को दिए एक इंटरव्यू में सलाउद्दीन ने कहा, अब तक हमारा पूरा ध्यान भारतीय पेशेवर बलों पर था। सभी ऑपरेशन जो हमने चलाए या जारी हैं, हमारा पूरा फोकस इन सुरक्षा बलों के प्रतिष्ठाोनों पर ही था। वहीं, कश्मीर को अपना ‘घर’ बताते हुए कहा कि बुरहान वानी की हत्या के बाद से घाटी में विद्रोह काफी बढ़ा है। सलाउद्दीन ने यह भी खुलासा किया कि भारत में उसके कई समर्थक हैं। यही नहीं, अंतरराष्ट्रीय बाजारों से हथियार खरीदने की बात भी सलाउद्दीन स्वीकार की। उसने कहा कि यदि उसे किसी तरह की आर्थिक मदद दी जाए, तो वह किसी भी जगह पर हथियारों की सप्लाीई करने में सक्षम है।

‘किसी भी जगह को बना सकते हैं निशाना’

भारत में कई ऑपरेशनों को अंजाम देने की बात स्वीाकार करते हुए सलाउद्दीन ने कहा कि 9/11 के बाद से अंतर्राष्ट्रीय पारिदृश्या बदला है। उसका कहना है की उस वक्त यदि हम कश्मीर के बाहर अपने ऑपरेशनों को अंजाम देते तो भारत को कश्मीर-ए-तहरीक को एक आतंकी संगठन घोषित करने का मौका मिल जाता। हमारे पास पूर्ण समर्थन है और हम भारत में किसी भी जगह को निशाना बना सकते हैं। सलाउद्दीन ने कहा, हम जम्मू -कश्मीम को आजाद कराए बिना अपना संघर्ष खत्म नहीं करेंगे।

घाटी को कब्रिस्तान बनाने की दी थी धमकी

सलाहुद्दीन को वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने के एक दिन बाद पाकिस्ताान ने अमेरिका की आलोचना की थी। सलाउद्दीन हिजबुल मुजाहिदीन का प्रमुख है, जिसने पिछले साल भारतीय सुरक्षा बलों के लिए कश्मीर घाटी को कब्रिस्तान बनाने की धमकी दी थी।

Comments

Most Popular

To Top