International

आतंकी बनने के लिए साढ़े चार हजार रूसियों ने देश छोड़ा

विदेशी आतंकी

रूस के लगभग 4,500 नागरिक आतंकियों का साथ देने के लिए अपना देश छोड़ चुके हैं। Deutsche Welle वेबसाइट की एक खबर के मुताबिक रूस की सुरक्षा एजेंसी फेडरल सिक्योरिटी सर्विस (FSB) चीफ अलेक्जेंडर बोर्तनिकोव ने एक अखबार के साथ बातचीत में इस बात की जानकारी दी है। उनके मुताबिक अब तक ऐसे 4,500 नागरिकों की पहचान हो चुकी है जो आतंकी बनने के लिए अपना देश छोड़ चुके हैं।





अखबार के साथ बातचीत में बोर्तनिकोव ने यह भी बताया कि रूस ने कैसे इस वर्ष 23 आतंकी हमलों को नाकाम किया। उनके मुताबिक रूसी सुरक्षा एजेंसी ने मध्यपूर्व, उत्तरी अफ्रीका, पाकिस्तान और अफगानिस्तान से रूस में आतंकियों को घुसने से रोका है बल्कि रूसी नागरिकों को वहां जाने से रोका भी है। पिछले एक महीने में ही रूस ने अपने 200 से ज्यादा नागरिकों को इन इलाकों की यात्रा करने से रोका है। पिछले पांच साल में रूस में साढ़े नौ हजार लोगों पर आतंकवाद के आरोप लगे हैं।

रूस पिछले कुछ समय से IS जैसे आतंकी संगठनों के निशाने पर है। सेंट पीटर्सबर्ग बम हमले समेत रूस को कई आतंकी हमले झेलने पड़े हैं। सेंट पीटर्सबर्ग हमले में लगभग 15 लोग मारे गए थे। गौरतलब है कि रूस की सेना सीरिया में IS के खिलाफ अभियान चला रही है।

Comments

Most Popular

To Top