International

प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के खिलाफ क्यों दर्ज हुई ‘FIR’

रावलपिंडी: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के खिलाफ उनके ही देश में प्राथमिकी दर्ज की गई है। नवाज शरीफ पर लोगों को पाकिस्तानी सेना के खिलाफ कथित रूप से भड़काने का आरोप है।





पाकिस्तान के प्रतिष्ठित समाचार पत्र ‘डॉन’ के मुताबिक, ‘पुलिस ने पाकिस्तानी सेना के खिलाफ नफरत पैदा करने के लिए लोगों को भड़काने के आरोप के तहत यह रिपोर्ट दर्ज की है’। अखबार ने इस मामले को ‘असामान्य’ बताया है। यह बात भी गौर करने वाली है कि पुलिस द्वारा दर्ज की गई यह रिपोर्ट एफआईआर नहीं है, इसे पुलिस की डायरी में दर्ज किया गया है।

एक पन्ने की इस रिपोर्ट को दर्ज कराने वाले शख्स का नाम इश्तियाक अहमद मिर्जा है। मिर्जा पेशे से वकील हैं और पाकिस्तान की एक राजनीतिक पार्टी आईएम पाकिस्तान के अध्यक्ष हैं। उनका दावा है कि यह पार्टी पाकिस्तान के चुनाव आयोग के यहां रजिस्टर्ड है।

अहमद ने अपनी शिकायत में कहा है कि वह अपने जिला अदालत के ऑफिस में बैठे हुए थे। दोपहर में उनके मोबाइल पर एक वॉट्सऐप विडियो क्लिप आया जिसमें एक व्यक्ति भाषण दे रहा था। अहमद ने कहा कि क्लिप में भाषण दे रहा व्यक्ति ‘प्रधानमंत्री नवाज शरीफ थे’ जो लोगों को ‘सेना के खिलाफ भड़का रहे थे’।

क्लिप देखने के बाद अहमद ने शरीफ के खिलाफ केस दर्ज करने की प्रार्थना की। उनकी शिकायत पर कार्रवाई करते हुए 3 मई को सिविल लाइन्स पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली।

Comments

Most Popular

To Top