International

पाकिस्तान के आतंकी ठिकानों पर ट्रम्प की निगाहें टेढी

डोनाल्ड ट्रम्प

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का भी पाकिस्तान के खिलाफ दृष्टिकोण बदल गया है। वह वहां आतंक के सुरक्षित ठिकानों के खिलाफ सख्त रुख अपनाने के मूड में हैं और ऐसे आतंकी ठिकानों को निशाना बना सकते हैं जो पड़ोसी देश अफगानिस्तान में हमलों को अंजाम दे रहे हैं। यह जानकारी मंगलवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली।





एक समाचार एजेंसी के अनुसार, अमेरिकी प्रशासन के अधिकारी इस बारे में अपनी रणनीति को अंतिम रूप देने में जुटे हैं। वे पाकिस्तान पर शिकंजा कसने के लिए कई कदमों पर विचार कर रहे हैं जिनमें ड्रोन हमलों की संख्या बढ़ाना या पाकिस्तान को मिलने वाली आर्थिक मदद को रोकना शामिल है। इसके अलावा गैर नाटो सहयोगियों में पाकिस्तान का दर्जा घटाने पर भी विचार चल रहा है।

हालांकि ट्रम्प प्रशासन के कुछ अधिकारी ऐसे भी हैं जिन्हें इन कदमों की सफलता पर संदेह है। उनका कहना है कि पाकिस्तान से उसके यहां चल रहे आतंकवाद पर अंकुश लगवाने के लिए अमेरिका की पूर्ववर्ती सरकारें भी कोशिश करती रही हैं, लेकिन उन्हें बहुत ज्यादा सफलता हाथ नहीं लगी। इन अधिकारियों का मानना है कि आज अमेरिका के रिश्ते पाकिस्तान के धुर विरोधी भारत के साथ पहले की तुलना में काफी अच्छे हैं। ऐसे में अमेरिकी कोशिश ज्यादा सफल होंगी इस पर संदेह है।

हालांकि ट्रम्प प्रशासन की ओर से आधिकारिक रूप से इस मुद्दे पर कुछ नहीं कहा जा रहा है। पेंटागन के प्रवक्ता एडम स्टंप ने इस मुद्दे पर सिर्फ इतना कहा कि अमेरिका और पाकिस्तान राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर लगातार सहयोगी बने हुए हैं और एक-दूसरे की मदद कर रहे हैं।

Comments

Most Popular

To Top