International

बिना नाम लिए आतंकवाद पर पाकिस्तान को ट्रम्प की नसीहत

रियाद: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने बिना नाम लिए पाकिस्तान पर आतंकवाद को लेकर जोरदार हमला बोला है। उन्होंने कहा कि कुछ देश आतंकवाद बढ़ाने में मदद कर रहे हैं। इसी वजह से मध्य-पूर्व से लेकर भारत और रूस जैसे देश भी प्रभावित हो रहे हैं। ट्रंप ने कहा कि धर्म के नाम पर आतंकवाद का खेल अब बंद होना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि भारत भी आतंकवाद से पीड़ित देश हैं। उन्होंने सऊदी अरब के रियाद में इस्लामिक देशों के नेताओं को संबोधित करते हुए उनसे आतंकवाद के खिलाफ लड़ने का आह्वान भी किया।





सऊदी अरब की विदेश यात्रा पर गए अमेरिकी राष्ट्रपति ने रविवार को रियाद में 50 इस्लामिक देशों के नेताओं को संबोधित किया। इनमें पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ भी मौजूद थे। डोनाल्ड ट्रम्प ने अपने संबोधन में मुस्लिम देशों के नेताओं से आतंकवाद खत्म करने की अपील की। उन्होंने कहा कि अपनी पवित्र धरती पर आतंकवाद को न पनपने दें।

सऊदी दौरे पर डोनाल्ड ट्रम्प के सुर भी बदलते नजर आए। आतंकवाद को लेकर अक्सर ‘रेडिकल इस्लामिक आंतकवाद’ शब्द का इस्तेमाल करने वाले ट्रम्प ने कहा कि आतंकवाद को लेकर पश्चिम और इस्लाम के बीच लड़ाई नहीं है। बल्कि यह अच्छाई और बुराई के बीच की लड़ाई है।

ट्रम्प ने कहा कि अमेरिका का मकसद आतंकवाद का खात्मा करना है। ट्रम्प ने कहा, हम यहां भाषण देने के लिए नहीं हैं, हम यहां दूसरे लोगों को यह बताने के लिए नहीं है कि कैसे जियें, क्या करें या कैसे उपासना करें। बल्कि हम यहां बेहतर भविष्य पर विचार करने के लिए हैं।

Comments

Most Popular

To Top