DEFENCE

स्पेशल रिपोर्ट: चीन अब विमान से लांच करने वाली परमाणु मिसाइल तैनात करेगा

चीनी विमान
चीनी विमान (प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्ली। चीन ऐसा पहला देश होगा जो किसी विमान से परमाणु बम ले जाने वाली बैलिस्टिक मिसाइल लांच करने की क्षमता हासिल कर लेगा। तुंगफंग-21(डीएफ-21) नाम की यह मिसाइल अभी परीक्षण के दौर से गुजर रही है और माना जा रहा है कि  2025 तक यह मिसाइल चीन की जनमुक्ति सेना(पीएलए) के रॉकेट फोर्स में तैनात हो जाएगी।





यह एयर लांच्ड बैलिस्टिक  मिसाइल(एएलबीएम)  तीन हजार किलोमीटर दूर तक मार कर सकती है। इसके लिये चीन ने विशेष तौर पर एक लांग रेंज स्ट्रैटजिक वाम्बर यानी लम्बी दूरी तक उड़ान भरने वाले सामरिक बमवर्षक विमान का विकास कर लिया है। किसी विमान से बैलिस्टिक मिसाइल छोड़ने की क्षमता हासिल करने के लिये अमेरिका और रूस ने भी कोशिश की है लेकिन इस कार्यक्रम को दोनों  देशों ने आगे नहीं बढ़ाया। अमेरिका ने हालांकि आकाश से छ़ोड़ी जाने वाली बैलिस्टिक मिसाइल का विकास तो किया है लेकिन वह इसका इस्तेमाल अपनी मिसाइल नाशक प्रणालियों के परीक्षण के लिये करता है।

हालांकि चीन ने इस मिसाइल का कोई औपचारिक नाम नहीं दिया है लेकिन माना जा रहा है कि यह डीएफ- 21 मिसाइल पर आधारित है। अमेरिकी खुफिया समुदाय ने इस मिसाइल का नाम सीएच-एएस-एक्स-13 रखा है। इस मिसाइल का पहला परीक्षण दिसम्बर , 2016 में हुआ था और इसके अब तक पांच परीक्षण हो चुके हैं। चीन इसका परीक्षण अपने एच-6-के स्ट्रैटजिक बाम्बर पर कर रहा है। अगली पीढ़ी की चीन की यह मिसाइल दो- चरणों की  ठोस ईंधन  वाली  है। जिस सामरिक बमवर्षक विमान पर यह मिसाइल छोड़ी जाएगी उसका उड़ान दायरा छह हजार किलोमीटर है जिससे यह माना जा रहा है कि अपने इस विमान से चीन अपनी एयर लांच्ड बैलिस्टिक मिसाइल को अमेरिका के किसी भी सामरिक ठिकाने पर निशाना बना सकता है।

हालांकि चीन की सेना के पास 12 हजार किलोमीटर दूर तक मार करने वाली परमाणु बैलिस्टिक मिसाइलें हैं जिससे वह अमेरिका के किसी भी ठिकाने पर वार कर सकता है लेकिन चीन हवा से छोड़े जाने वाली इस सामरिक परमाणु मिसाइल का विकास इसलिये कर रहा है कि वह जवाबी परमाणु हमला क्षमता को और पुख्ता कर सके।

चीन को  चिंता है कि  अमेरिका ने अपनी मिसाइल सुरक्षा प्रणाली को इतना अभेद्य बना लिया है कि जमीन से छोड़ी जाने वाली परमाणु बैलिस्टिक मिसाइलें आसमान में ही उड़ान के दौरान गिरा दी जा सकती हैं। इसलिये चीन ने विमान से परमाणु मिसाइल छोड़ने वाली मिसाइल का विकास की योजना शुरू की ताकि वह अमेरिका की मिसाइल सुरक्षा प्रणाली पर विजय पा सके।

Comments

Most Popular

To Top