International

चीन के लिए पुल बना मुसीबत, कहा- सावधानी बरते भारत

ढोला-सादिया पुल

पेइचिंग। चीन ने अरुणाचल प्रदेश में इन्फ्रास्ट्रक्चर बढ़ाए जाने को लेकर भारत को चेतावनी दी है। उसने कहा है कि भारत को अरुणाचल में आधारभूत ढांचे के निर्माण को लेकर सावधानी और संयम बरतना चाहिए। भारत का सबसे लंबा पुल ढोला-सदिया पुल (भूपेन हजारिका ब्रिज) पुल 9.2 किलोमीटर के बनने और इस पर यातायात शुरू होने से चीन ज्यादा परेशान दिखाई पड़ रहा है।





कुछ ही दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम को अरुणाचल प्रदेश को जोड़ने के लिए ढोला-सादिया पुल का उद्घाटन किया है। ये पुल भारत का सबसे लंबा नदी पर बना पुल है और प्रधानमंत्री ने इस पुल को सुरक्षा की दृष्टि से देश को समर्पित किया है। इस पुल से चीन सीमा पर भारत की आवाजाही आसान हो जाएगी। इसलिए चीन को ये पुल चीन के लिए चुनौती बन गया है। बता दें कि चीन अरुणाचल प्रदेश को दक्षिणी तिब्बत कहता है और इसे अपना हिस्सा मानने से भी गुरेज नहीं करता है। चीन के विदेश प्रवक्ता ने कहा कि चीन और भारत सीमा विवाद बातचीत और आपसी संपर्क के जरिए सुलझााने चाहिए।

इस पुल के उद्घाटन पर पर चीन से जब प्रतिक्रिया देने को कहा गया तो चीन विदेश मंत्रालय द्वारा चीनी भाषा में दिए गए एक बयान जारी कर कहा कि भारत अरूणाचल में इंफ्रास्ट्रक्चर निर्माण के लिए सयंमित और संतुलित रवैया अपनाएगा। भारत-चीन संबंधों में चीन का रवैया लगातार एक जैसा और साफ रहा है। हमें उम्मीद है भारत-चीन सीमा पर भारत शांति बनाए रखने में सहयोग करेगा।

Comments

Most Popular

To Top