DEFENCE

चीन ने रक्षा बजट में किया आठ फीसदी का इजाफा

पेइचिंग। वर्ष 2018 के लिए चीन का रक्षा बजट 1110 करोड़ युआन का होगा। अगर डॉलर में कहें तो यह 175 अरब डॉलर का होगा। रुपयों में यह 11,375 अरब रुपये से ज्यादा होगा। पिछले वर्ष के मुकाबले यह लगभग आठ फीसदी ज्यादा होगा। राष्ट्रीय विधायिका में सोमवार को बजट रिपोर्ट पेश की गई। रक्षा बजट में इजाफे का मतलब है कि अब चीन सैन्य गतिविधियों पर ज्यादा खर्च करेगा। भारत की तुलना में चीन का रक्षा बजट पहले से ही तीन गुना ज्यादा था। अब इसमें और इजाफा भारत के लिए चिंता का विषय बन सकता है।





सिन्हुआ समाचार एजेंसी के अनुसार 13वीं नेशनल पीपुल्स कांग्रेस के पहले सत्र के समक्ष पेश होने वाली इस रिपोर्ट में बताया गया है कि चीन का रक्षा बजट 1110 करोड़ युआन का होगा।

नेशनल पीपुल्स कांग्रेस की बैठक के प्रवक्ता झांग येसुई ने रक्षा बजट में बढ़ोतरी को जायज ठहराते हुए कहा कि देश का प्रति व्यक्ति सैन्य खर्च अन्य प्रमुख देशों की तुलना में कम है। उन्होंने कहा कि सकल घरेलू उत्पाद (GDP) और राष्ट्रीय राजकोषीय व्यय से रक्षा बजट के लिए छोटा सा हिस्सा लिया गया है।

लंदन स्थित थिंक टैंक इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट फॉर स्ट्रैटजिक स्टडीज के अनुसार पिछले वर्ष चीन ने रक्षा बजट के लिए 151 अरब डॉलर यानी 9 हजार 815 रुपये आवंटित किये थे। अमेरिका का रक्षा बजट 603 अरब डॉलर है। इसके मुकाबले में चीन का रक्षा बजट चार गुना कम है लेकिन भारत के रक्षा बजट से तीन गुना ज्यादा है।

Comments

Most Popular

To Top