International

चीन ने दक्षिण सागर के द्वीपों पर तैनात किए रॉकेट लांचर

दक्षिण चीन सागर

बीजिंग। वियतनाम के लड़ाकू डायचर्स को पीछे हटाने के लिए दक्षिण चीन सागर के विवादित द्वीपों पर चीन ने रॉकेट लांचर तैनात किए हैं। यह खुलासा चीन के सरकारी मीडिया ने किया है।





विदित हो दक्षिण चीन सागर में चीन के आक्रामक रुख का विरोध अमेरिका के अतिरिक्त भारत भी करता रहा है। माना जा रहा है कि चीन के इस कदम से क्षेत्र में तनाव बढ़ सकता है। समाचार पत्र डिफेंस टाइम्स ने मंगलवार को अपने वीचैट अकाउंट पर अपनी रिपोर्ट में बताया कि विवादित स्पार्टली द्वीप पर चीन ने नॉरिनको सीएस/एआर -1 55 एमएम एंटी फ्रॉगमैन रॉकेट लॉन्चर्स डिफेंस सिस्टम तैनात किया है। ऐसा दुश्मन के कॉम्बैट डायवर्स पर हमला करने और अपनी क्षमता आंकने के लिए किया गया है।

रिपोर्ट में इसका खुलासा नहीं किया गया है कि रॉकेट लॉन्चर्स कब तैनात किए गए, लेकिन यह जरूर बताया गया है कि यह मई 2014 में शुरू हुई गतिविधियों का हिस्सा है। उस वक्त वियतनामी डायवर्स ने पैरासेल द्वीप पर बड़ी संख्या में मछली पकड़ने के जाल डाले थे।

हालांकि दक्षिण चीन सागर के फियरी क्रॉस रीफ पर चीन का नियंत्रण है, लेकिन फिलीपींस, वियतनाम और ताइवान भी इस पर अपना दावा करते हैं। उधर, अमेरिका साउथ चाइना सी में मिलिट्री की तैनाती को लेकर बीजिंग की आलोचना करता रहा है और क्षेत्र में नेविगेशन की आजादी का समर्थन करता है।

Comments

Most Popular

To Top