International

अमेरिका-चीन मिलकर उत्तर कोरिया से निपटने को तैयार

यांग जिएची

वाशिंगटन। चीन कोरियाई प्रायद्वीप में परमाणु मुद्दे पर बढ़ रहे तनाव को कम करने और इस मुद्दे को सुलझाने के लिए अमेरिका के साथ समन्वय करने पर राजी हो गया है। समाचार एजेंसी शिन्हुआ के मुताबिक, चीन के स्टेट काउंसलर यांग जिएची ने गुरुवार को व्हाइट हाउस में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के साथ बैठक के दौरान ये बातें कहीं। इस दौरान ट्रम्प ने कहा कि अमेरिका भी कोरियाई प्रायद्वीप में परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए चीन से सहयोग बढ़ाने का इच्छुक है।





  • उत्तर कोरिया के खिलाफ साथ काम करने की जताई इच्छा

यांग ने बैठक में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग को ट्रम्प के लिए भेजी शुभकामनाएं भी दीं और कहा कि अप्रैल में शी की ट्रम्प के साथ फ्लोरिडा में बैठक के बाद से दोनों देशों के संबंधों में विकास हुआ है। यांग ने कहा कि चीन अमेरिका के साथ सहयोग बढ़ाने, उच्चस्तरीय विचार-विमर्श को जारी रखने, आपसी लाभप्रद सहयोग को विस्तृत करने और परस्पर सम्मान के आधार पर उचित तरीके से मतभेदों को सुलझाने के लिए अमेरिका के साथ काम करने का इच्छुक है।

  • उतार-चढ़ाव के बावजूद करीब आ रहे हैं दोनों देश

अमेरिका और चीन के बीच हमेशा एक-दूसरे को लेकर कुछ न कुछ उतार-चढ़ाव चलते रहते हैं, लेकिन अब उत्तर कोरिया के मुद्दे पर दोनों देश एक दूसरे का सहयोग कर रहे हैं। अमेरिका ने उत्तर कोरिया मामले में सहयोग करने के लिए चीन की तारीफ भी की है। व्हाइट हाउस की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि उत्तरी कोरिया मामले में चीन ने लगातार पॉजिटिव भूमिका निभाई है।

  • डोनाल्ड ट्रम्प ने चीन को किया था आगाह 

इससे पहले डोनाल्ड ट्रम्प ने हाल में चेतावनी दी थी कि यदि चीन आगे नहीं आता है तो वह अकेला ही उत्तर कोरिया के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए तैयार है। गौरतलब है कि आए दिन उत्तर कोरिया की ओर से मिसाइल, रॉकेट की टेस्टिंग से अमेरिका-चीन और जापान परेशान हैं। उत्तर कोरिया को रोकने के लिए अमेरिका और चीन ने साथ आने के लिए हामी भरी है।

Comments

Most Popular

To Top