International

कुलभूषण केस : अब अटॉर्नी जनरल ICJ में रखेगा पाकिस्तान का पक्ष

अश्हतर आॅसुफ अली

इस्लामाबाद। भारतीय नागरिक और नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव को सैन्य कोर्ट द्वारा फांसी की सजा सुनाए जाने के पक्ष में अटॉर्नी जनरल अश्तर आसफ अली इंटरनेशनल कोर्ट आॅफ जस्टिस (ICJ) में पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व करेंगे। इससे पहले ख्वार कुरैशी इस केस का प्रतिनिधित्व कर रहे थे। हालांकि यह अभी साफ नहीं हुआ है कि वह लीगल टीम का हिस्सा रहेंगे या नहीं।





आईसीजे का फैसला मानने से पाकिस्तान ने किया है इंकार

अंतर्राष्ट्रीय अदालत द्वारा जाधव की फांसी पर रोक लगाने के बाद विपक्षी दलों द्वारा सरकार की भूमिका की निंदा की गई थी। शुक्रवार को विपक्षी नेता खुर्शीद शाह ने फैसले को एक बड़ा झटका बताते हुए स्पष्ट किया था कि सरकार काफी लापरवाह है। उन्होंने कहा कि सरकार को आईसीजे में पाकिस्तान का पक्ष रखने के लिए अटॉर्नी जनरल को भेजना चाहिए।

18 मई को पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ ने भारतीय जासूस मामले में अंतर्राष्ट्रीय कोर्ट के फैसले के खिलाफ पंजाब असेंबली में एक याचिका दाखिल की थी। पंजाब विधानसभा के नेता मियां महमूदुर रशीद ने सदन में एक निंदा याचिका पेश की जिसमें कहा गया कि अंतर्राष्ट्रीय कोर्ट का ये फैसला पाकिस्तान के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप है।

भारत ने आईसीजे को थिएटर बना लिया है : पाकिस्तान

पाकिस्तान के काउंसलर ख्वार कुरैशी ने आईसीजे में कहा था कि जाधव को फांसी देने में पाकिस्तान कोई जल्दबाजी नहीं कर रहा है। कुलभूषण जाधव के पास अपील करने के लिए 150 दिन का समय है। उन्होंने कहा कि कुलभूषण किसी भी प्रकार की राजनयिक मदद पाने के योग्य नहीं है। मोहम्मद फैसल ने तो यह भी कह डाला था कि भारत अंतर्राष्ट्रीय कोर्ट का इस्तेमाल थिएटर की तरह कर रहा है और पाकिस्तान को आतंकवाद के नाम पर डरा रहा है।

 

Comments

Most Popular

To Top