DEFENCE

क्या बात है… अमेरिका के पास बम की मां है तो रूस के पास बाप !!

रूस

नई दिल्ली: अमेरिका के पास यदि ‘मदर ऑफ़ ऑल बॉम्ब्स’ (Mother of all bombs-MOAB) है तो रूस के पास ‘फॉदर ऑफ ऑल बम’ (FOAB) है। हालांकि, रूस ने अभी तक इस परमाणु बम का इस्तेमाल नहीं किया है लेकिन यह अमेरिका के MOAB से चार गुणा ज्यादा पावरफुल है और इसकी लागत भी कम है। आइए हम आपको बताते हैं इसके बारे में:





अमेरिका ने अफगानिस्तान में दागा ‘मदर ऑफ़ ऑल बॉम्ब्स’, दुनिया भौंचक

जानिए क्या है अमेरिका का ‘मदर ऑफ़ ऑल बॉम्ब्स’

वास्तविक नाम: एटामिक थर्मोबेरिक बॉम्ब ऑफ इंक्रीज्ड पावर (ATBIP)

वजन: 7,100 किलो ग्राम (15,650 एलबी)

परीक्षण: 11 सितंबर 2007

श्रेणी: थर्मोबेयरिक

एफओएबी का आंतरिक भाग (प्रतीकात्मक तस्वीर)

एटामिक थर्मोबेरिक बॉम्ब ऑफ इंक्रीज्ड पावर (ATBIP) को अमेरिका के जीबीयू-43/बी मैसिव ऑर्डनेंस एयर ब्लास्ट के जवाब में बनाया गया है। यह ‘फादर ऑफ ऑल बम’ के नाम से भी लोकप्रिय है। यह 44 टन टीएनटी की विस्फोटक ऊर्जा उत्पन्न करता है जो अमेरिका के जीबीयू-43/बी के मुकाबले 44 गुणा ज्यादा है। वहीं इसकी विस्फोटक घेरा बनाने की क्षमता तीन सौ मीटर है जोकि एमओएबी से दो गुणा है। यह अमेरिका के एमओएबी (मदर ऑफ आल बम) से ज्यादा बड़े इलाके की ऑक्सीजन खत्म करके आग का विशालकाय गोला बनाता है।

अमेरिका-रूस

अमेरिका के पास MOAB है तो रूस के पास FOAB

यह ग्लोबल नेविगेशन सेटेलाइट सिस्टम के जरिए लक्ष्य भेदता है। यह भी जमीन के ऊपर फटता है। यानि कुल मिलाकर रूस का एफओएबी ‘फादर ऑफ आल बम’ अमेरिका के एमओएबी (मदर ऑफ आल बम) से चार गुणा शक्तिशाली है।

Comments

Most Popular

To Top