International

अमेरिका ने ऊपर ही ‘दुश्मन’ मिसाइल को ध्वस्त कर डाला !

इंटरसेप्टर मिसाइल

वाशिंगटन। अमेरिका ने प्रशांत महासागर के ऊपर अंतर महाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल (ICBM) का परीक्षण किया। इसके तहत एक नकली बैलिस्टिक मिसाइल को लक्ष्य तक पहुंचने से पहले ही आसमान में ध्वस्त कर उत्तर कोरिया को चेता दिया है कि अमेरिकी सेना से लोहा लेना उसके लिए महंगा साबित हो सकता है। यह अपनी तरह का पहला परीक्षण था।





अमेरिकी रक्षा विभाग पेंटागन ने कहा है कि इसकी योजना पहले से बनी थी, मगर यह टेस्ट उत्तर कोरिया के साथ बढ़ते तनाव के बीच किया गया है। उल्लेखनीय है कि अमेरिका उत्तर कोरिया के आक्रामक रुख से चिंतित है। प्योंगयांग ने इस साल अब तक नौ मिसाइलों के परीक्षण किए हैं। अमेरिका ने उत्तर कोरिया के तीन हफ़्ते में तीन मिसाइलों के परीक्षण के बाद यह कदम उठाया है।

इंटरसेप्टर मिसाइल

अमेरिका द्वारा कैलिफ़ोर्निया के सैन्य हवाई अड्डे से दागा गया इंटरसेप्टर मिसाइल

अमेरिकी की मिसाइल रक्षा एजेंसी (एमडीए) का कहना है कि मंगलवार को कैलिफ़ोर्निया के एक सैन्य हवाई अड्डे से एक इंटरसेप्टर दाग़ा गया जिसने प्रशांत महासागर के ऊपर एक नक़ली मिसाइल को नाकाम कर दिया। इस मिसाइल को मार्शल आइलैंड से दाग़ा गया था।

प्रशांत महासागर में मिसाइल रक्षा एजेंसी के निदेशक जेम्स डी सेरिंग ने बताया कि यह परीक्षण सफल रहा। अब अमेरिकी सेना उत्तरी कोरिया की ओर से ऐसी किसी भी बैलिस्टिक मिसाइल को लक्ष्य तक पहुंचाने से पहले ही ध्वस्त करने में सक्षम है, फिर भले ही उस मिसाइल के मुख पर आणविक हथियार ही क्यों न लगाए गए हों। उधर, अमेरिकी सेना इस परीक्षण को मील का पत्थर बता रही है।

संयुक्त राष्ट्र ने उत्तर कोरिया पर सभी तरह के परमाणु कार्यक्रम और मिसाइल परीक्षण पर पाबंदी लगा रखी है, लेकिन वह लगातार उल्लंघन कर रहा है। उत्तर कोरिया के आक्रामक रुख़ से जापान और दक्षिण कोरिया की चिंता लगातार बढ़ रही है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प लगातार चीन पर उत्तर कोरिया को संभालने के लिए दबाव बना रहे हैं।

Comments

Most Popular

To Top