Air Force

एयरफोर्स में ऊंची उड़ान भरेंगे नक्सल प्रभावित क्षेत्रों के युवा

जंगल में नक्सली

नई दिल्ली। देश के नक्सलवाद-माओवाद क्षेत्र के युवा अब भारतीय वायुसेना में नौकरी पाकर ऊंची उड़ान भरेंगे। सर्वाधिक नक्सल प्रभावित क्षेत्र के 35 जिलों में एयरफोर्स द्वारा चलाए गए अभियान के बाद ऐसे नतीजे सामने आए हैं।





सूत्रों के मुताबिक इन जिलों में 1,245 नवयुवकों ने वायुसेना की परीक्षा पास की है। और अब शेष प्रक्रिया पूरी करने के बाद वह एयरमैन बनने जा रहे हैं। इन इलाकों में सरकार कई तरह के प्रयास कर रही है जिसमें सेना और अर्धसैनिक बलों के लिए युवाओं की भर्ती की जाती है। इस कड़ी में एयरफोर्स द्वारा की गई यह भी एक पहल है।

साल 2015 में नक्सल प्रभावित क्षेत्रों के युवाओं को मुख्यधारा में शामिल करने के लिए इंडियन एयरफोर्स ने यह भर्ती अभियान शुरू किया था। पिछले तीन वर्षों में आठ बड़े भर्ती कार्यक्रम-मेढक (तेलगांना), कालाहांडी तथा बालंगीर (ओडिशा), रांची तथा देवघर (झारखंड), राजनांदगांव, रायपुर तथा अम्बिकापुर (छत्तीसगढ़) में आयोजित किए गए। इसका परिणाम यह निकला कि तमाम युवा कुशल मार्गदर्शन के बाद अपनी प्रतिभा को सामने लाकर वायुसैनिक बन सकें। खास बात यह है कि इन नौजवानों को जरूरी प्रशिक्षण भी दिया गया है।

इस अभियान की अगुवाई कर रहे एयर वाइस मार्शल ओपी तिवारी के मुताबिक इन भर्ती अभियानों में कुल 16,505 युवाओं ने भाग लिया जिनमें 1,245 ने परीक्षा पास की है।

Comments

Most Popular

To Top