Forces

असम में उल्फा-आई के 3 उग्रवादियों ने किया सरेंडर

ULFA (I)
फोटो सौजन्य- गूगल

गुवाहाटी। राज्य में प्रतिबंधित उल्फा(आई) उग्रवादी संगठन के तीन उग्रवादियों ने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया है। पुलिस महानिदेशक डॉ कुलाधार के मुताबिक गिरफ्तार तीन उग्रवादियों में से एक उग्रवादी बोरदुमसा पुलिस अधिकारी भास्कर कलीता की हत्या में भी शामिल था।





मीडिया खबरों के मुताबिक पुलिस को सूचना मिली कि उल्फा(आई) के सदस्यों ने सामरिक गतिविधियों को अंजाम देने के लिए भारत-म्यांमार की सीमा लांघी। जिसकी सूचना मिलने के बाद पुलिस, सेना और सीआरपीएफ के जवानों ने जंगल में एक ऑपरेशन चलाया और उग्रवादियों को चारों ओर से घेर हथियार छोड़ने को कहा जिसके बाद उन्होंने आत्मसमर्पण कर दिया।

पुलिस ने उग्रवादियों के पास से एके-81, एके-56 और एच के 33 राइफल समेत दो हथगोले मिले हैं। उग्रवादियों की पहचान बिनंदा दोहुतिया उर्फ स्वदेश असोम और चन्द्रकांता बोरगोहाई उर्फ तिपांग असोम के रूप में हुई। जबकि पुलिस अधिकारी कलीता की हत्या में शामिल तीसरे उग्रवादी की पहचान बुलबुल मोरान उर्फ टाइगर असोम के रूप में की गई है।

Comments

Most Popular

To Top