Army

प्रादेशिक सेना यानी टेरिटोरियल आर्मी से जुड़े 9 अनजाने फैक्ट्स

प्रादेशिक सेना भारतीय सेना की एक ईकाइ तथा सेवा है। इसके स्वयंसेवकों को प्रतिवर्ष कुछ दिनों का सैनिक प्रशिक्षण दिया जाता है ताकि आवश्यकता पड़ने पर देश की रक्षा के लिये उनकी सेवायें ली जा सकें। टेरिटोरियल आर्मी के रूप में प्रसिद्ध इस सेना के जवानों को टेरियार्स भी कहा जाता है। आइये जानते हैं प्रादेशिक सेना से जुड़ी कुछ खास बातें:





इस दिन हुई शुरुआत

प्रादेशिक सेना यानी टेरिटोरियल आर्मी

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

भारतीय संविधान द्वारा सितंबर 1948 में पारित प्रादेशिक सेना अधिनियम, 1948, के मुताबिक भारत में अक्टूबर, 1949 को प्रादेशिक सेना स्थापित हुई। भारत के पहले गवर्नर जनरल श्री राजगोपालाचारी ने 9 अक्टूबर 1949 को इंडियन टेरिटोरियल आर्मी का उद्घाटन किया था।

Comments

Most Popular

To Top