DEFENCE

सेनाओं में बढ़ रही है ‘मानव रहित एयर व्हीकल’ यानी ‘ड्रोन’ की मांग, जानें इससे जुड़ी 11 खास बातें

हाल ही में चीन द्वारा बनाया गया चिड़िया जैसा दिखने वाला मानवरहित ड्रान काफी चर्चा में रहा। पिछले दशक की बात करें तो मानव रहित एरियल व्हीकल्स का प्रयोग काफी बढ़ा है। मानव रहित एयर व्हीकल जिसे ‘ड्रोन’ कहा जाता है कूटनीतिक, सामरिक,  आपदा ग्रस्त क्षेत्रों में सर्वेक्षण निगरानी और विभिन्न तरह की सूचना, विडियो फुटेज, तस्वीरें और विभिन्न आवश्यक जानकारी प्राप्त करने के लिए आपदाग्रस्त क्षेत्रों, युद्धक एयर मिशन क्षेत्रों में ड्रोन लांचरों से ओपरेट किये जाते हैं| आइये जानते हैं युएवी यानी मानव रहित विमानों से जुड़ी कुछ खास जानकारियां :





ये है ड्रोन का फायदा

मानव रहित एयर व्हीकल

ड्रोन का सबसे बड़ा फायदा यह है कि मानवीय युद्धक विमानों की कीमतों के मुकाबले  काफी कम कीमत के होते हैं| यही नहीं, कई गुना कम वजन वाले इन ड्रोन को अधिक देर तक हवा में रखा जा सकता है| दूसरा सामरिक रूप में इनका सबसे बड़ा लाभ यह है कि इनके इस्तेमाल से पायलट्स की जान को खतरा नहीं रहता  है|

Comments

Most Popular

To Top