Air Force

कामयाबी की उड़ान: तेजस ने किया BVR मिसाइल का सफल परीक्षण

तेजस लड़ाकू विमान

नई दिल्ली। हवा से हवा में मार करने वाली बीवीआर रेंज मिसाइल (air-to-air beyond visual (BVR) range missile) का सफल परीक्षण करने के साथ ही देश में विकसित हल्का लड़ाकू विमान (LCA Light Combat Aircraft ) तेजस अंतिम परिचालन मंजूरी हासिल करने के करीब पहुंच गया है। परीक्षण के दौरान तेजस ने असरकारी लड़ाकू जेट के रूप में अपनी क्षमता का प्रदर्शन किया।





मीडिया खबरों के मुताबिक तेजस से मिसाइल दागने का परीक्षण शुक्रवार को गोवा में समुद्र तट के पास किया गया जो अपनी समस्त परिचालन आवश्यकताओं पर खरा उतरा। तेजस को हिन्दुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL)  तथा रक्षा अनुसंधान विकास संगठन (DRDO) की Aeronautical Development Agency (ADA) ने मिलकर तैयार किया है।

एक दिन पहले ही वायुसेना प्रमुख ने तेजस को भविष्य का लड़ाकू विमान बताया था। एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि हल्के लड़ाकू विमान तेजस का कोई मुकाबला नहीं है। पाकिस्तान के सिंगल इंजन के लड़ाकू विमान JF-17 का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि तेजस के सामने वह कहीं नहीं ठहरता। उन्होंने JF-17 को आज का तो तेजस को भविष्य का लड़ाकू विमान बताया। उन्होंने इस बाबत एक एविएशन जर्नल में छपे लेख की चर्चा करते हुए कहा कि लेखक ने उसमें लिखा है कि JF-17 तकनीकी रूप से तेजस जितना उन्नत नहीं है। गौरतलब है कि JF-17 को चीन और पाकिस्तान ने संयुक्त रूप से तैयार किया है।

Comments

Most Popular

To Top