Forces

स्पेशल रिपोर्ट: आतंकवाद विरोधी साझा सैन्य अभ्यास को लेकर कजाकस्तान के सैनिक भारत में

कजाकस्तान के सैनिक भारत में
फाइल फोटो

नई दिल्ली। भारत के लिए सामरिक नजरिये से महत्वपूर्ण  मध्य एशियाई देश कजाकस्तान और भारत के थलेसैनिकों के बीच 31 अगस्त से 13  सितम्बर के बीच पिथौरागढ़ में आतंकवाद विरोधी साझा सैन्य अभ्यास होगा।





इस संयुक्त अभ्यास में भारतीय और कजाकस्तान की थलसेनाओं के 100-100 जवान भाग लेंगे। इस दौरान दोनों देशों के थलसैनिक प्रतिविद्रोही और आतंकवाद विरोधी अभियान के दौरान सैन्य कार्रवाई के अपने अनुभव साझा करेंगे।

संयुक्त अभ्यास काजइंड-2019 का हर साल बारी-बारी से एक दूसरे के यहां आयोजन होता है। इस बार यह चौथा अभ्यास भारत में हो रहा है। इस अभ्यास का इरादा दोनों थलसेनाओं के बीच कम्पनी स्तर का  अभ्यास करना है जिसका मुख्य जोर  किसी पर्वतीय इलाके  में प्रतिविद्रोही गतिविधियों के दौरान सैन्य कार्रवाई करना है। इस अभ्यास के दौरान  दोनों सेनाएं आतंकवाद की उभरती वैश्विक प्रवृति के मद्देनजर अपने विचार साझा करेंगी।

इस अभ्यास के बारे में यहां थलसेना के प्रवक्ता ने बताया कि  संयुक्त सैन्य अभ्यास से दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग औऱ गहराई लेगा। गौरतलब है कि मध्य एशिय़ाई देश कजाकस्तान भी आतंकवाद से जूझ रहा है।

Comments

Most Popular

To Top