Forces

स्पेशल रिपोर्ट: करगिल विजय की 20वीं सालगिरह धूमधाम से मनाएगी सेना

करगिल युद्ध
फाइल फोटो

नई दिल्ली। करगिल की लड़ाई में पाकिस्तानी सैन्य घुसपैठियों को खदेड़ कर पाकिस्तानी सेना पर गौरवशाली विजय पाने की 20वीं सालगिरह भारतीय सेना धूमधाम से मनाएगी। इस मौके पर 27 जुलाई को यहां इंदिरा गांधी इनडोर स्टेडियम में एक भव्य सांस्कृतिक समारोह आयोजित किया जाएगा।





आपरेशन विजय की 20वीं सालगिरह के मौके पर यहां थलसेना ने कहा कि इस दिवस को हम तीन बातों से मना रहे है- रिमेम्बर, रिज्वायस और रिन्यू यानी याद करो, खुशी मनाओ और नए संकल्प करो। थलसेना ने कहा है कि करगिल युद्ध में विजय एक सुदृढ़ राजनीतिक, सैनिक और राजनयिक कार्रवाई का नतीजा था।

थलसेना के प्रवक्ता ने कहा कि हम इस दिन अपने शहीदों की कुर्बानियों को याद कर गर्व महसूस कर रहे हैं । दूसरी बात खुशी की है। हम करगिल की विजय को मना कर आनंदित हो रहे हैं और अपने तिरंगे के सम्मान की रक्षा का संकल्प ले रहे हैं।

करगिल युद्ध 1999 में मई और जुलाई महीने के बीच हुआ था और इस दौरान करगिल की बर्फीली चोटियों पर चोरी से घुस आए जेहादी के भेष में पाकिस्तानी सैनिकों को भारतीय वीर जवानों ने अपने अदम्य साहस औऱ बहादुरी का परिचय देते हुए उन्हें नियंत्रण रेखा के पार खदेड़ भगाया था।

यहां थलसेना के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट जनरल मोहित वैष्णव ने करगिल विजय की 20वीं सालगिरह मनाने की तैयारियों के बारे में कहा कि यह 25 से 27 जुलाई के बीच नई दिल्ली और करगिल इलाके की द्रास घाटी में मनाई जाएगी। लेकिन इस दिवस की तैयारी का माहौल बनाने के लिये देश भर में समारोह जुलाई महीने में आयोजित किये जाएंगे।

इसके तहत जो विभिन्न गतिविधियां आयोजित की जा रही हैं उसके तहत करगिल की चोटी पर चढ़ाई करने वाली उन सैन्य यूनिटों के सैनिक फिर से तोलोलिंग, टाइगर हिल, प्वाइंट 4,875 आदि चोटियों की चढाई करेंगी। इसके अलावा जुलाई महीने में विभिन्न राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों के एनसीसी कैडेटों के राष्ट्रीय एकता शिविर लगाए जाएंगे। एक अनोखा कार्यक्रम लेह में 12 दिनों तक आयोजित होगा। इसमें लद्दाख क्षेत्र के स्कूली बच्चों के लिये लेख और चित्रकारी प्रतियोगिता आदि आयोजित होंगी।

करगिल विजय दिवस लद्दाख के लोगों के लिये विशेष मौका बन चुका है। लद्दाख के लोग इस दौरान एक दौड़ प्रतियोगिता- एक दौड़ शहीदों के नाम- में भाग लेंगे। इस दौरान पोलो, तीरंदाजी जैसी प्रतियोगिताएं भी आयोजित होंगी। लद्दाख के एनडीएस मेमोरियल स्टेडियम में एक टी- 20 क्रिकेट प्रतियोगिता आयोजित होगी। यह स्टेडियम 11,500 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। इस क्रिकेट प्रतियोगिता में थलसेना, वायुसेना, भारत तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) और पूरे लद्दाख इलाके के स्थानीय कलबों की टीमें भाग लेंगी।

26 जुलाई को करगिल विजय दिवस के मौके पर द्रास में करगिल युद्ध स्मारक में शहीदों की याद में श्रद्धासुमन अर्पित करने का समारोह आयोजित होगा।

राष्ट्रीय राजधानी में करगिल विजय दिवस के समारोह 14 जुलाई से मनाने शुरू हो जाएंगे। नई दिल्ली स्थित नेशनल वार मेमोरियल की विजय ज्वाला से द्रास में विजय ज्वाला प्रज्वलित की जाएगी। यह विजय ज्वाला 11 शहरों से होकर द्रास पहुंचेगी। वहां करगिल युद्ध स्मारक की स्थायी ज्वाला में मशाल को नई दिल्ली से लाई गई मशाल को मिलाया जाएगा। मशाल टीमें मार्ग में विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों के छात्रों और हस्तियों से मिलेंगी।

अंत में नई दिल्ली स्थित मानेकशा सेंटर में एक समारोह होगा जहां करगिल में भाग लेने वाले सैनिकों और मौजूदा सैनिकों के साथ गोष्ठी आयोजित होगी। इसके बाद नई दिल्ली के इंदिरा गांधी इनडोर स्टेडियम में करगिल विजय दिवस सांस्कृतिक आयोजन होगा जिसमें अग्रणी हस्तियों को आमंत्रित किया जाएगा।

Comments

Most Popular

To Top