Army

स्पेशल रिपोर्ट: भारत जापान थलसैनिक अभ्यास समाप्त

भारत-जापान साझा युद्धाभ्यास
फाइल फोटो

नई दिल्ली। मिजोरम के वैरांगटे स्थित प्रतिविद्रोही और जंगल युद्ध स्कूल में भारत और जापान के थलसैनिकों के बीच एक पखवाड़े से चल रहा साझा थलसैनिक अभ्यास धर्म- गार्डियन 14  नवम्बर को समाप्त हो गया। थलसेना ने कहा है कि भारत औऱ जापान के बीच सैन्य और राजनयिक  सम्बन्धों को गहरा करने की दिशा में यह एक अहम कदम था।





यहां थलसेना के प्रवक्ता ने कहा कि इस साझा अभ्यास का मुख्य उद्देश्य शहरी और कस्बाई माहौल में  मिल कर प्रतिविद्रोही कार्रवाई का साझा संचालन करने के लिये प्रशिक्षित  होना है। साझा अभ्यास करने के पहले दोनों देशों के सैनिकों को एक दूसरे के संगठनात्मक ढांचे की जानकारी दी गई, एक दूसरे के रणनीतिक ड्रिल औऱ प्रक्रियाओं से अवगत कराया गया। दोनों देशों के सैनिकों  ने साथ  मिल कर हथियारों का संचालन औऱ विस्फोटक प्रणालियों के प्रबंध के  बारे में जानकारी हासिल की। दोनों देशों के सैन्य कमांडरों ने साथ मिलकर ऑपरेशन का संचालन किया और दोनों देशों के सैनिकों को साझा तौर पर निर्देश जारी किये। इससे दोनों देशों के सैनिक संयुक्त तौर पर प्रतिविद्रोही औऱ आतंकवाद विरोधी कार्रवाई का संचालन कर सकेंगे।

प्रवक्ता ने कहा कि इस अ्भ्यास को दोनों देशों की सेनाओं के पर्यवेक्षकों ने साथ मिलकर देखा जिससे एक दूसरे की क्षमताओं पर  भरोसा बढ़ा।

Comments

Most Popular

To Top