Army

सैन्य पाठ्यक्रमों को जामिया मिलिया इस्लामिया की मान्यता

नई दिल्ली। भारतीय सेना और जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय (जेएमआईयू) के बीच शैक्षणिक सहयोग, तकनीकी सहयोग और सेना के जवानों की प्रगति के संबंध में गुरुवार (28 सितंबर) को एक सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए गए। भारतीय सेना की ओर से लेफ्टिनेंट जनरल अश्विनी कुमार और जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के उपकुलपति प्रोफेसर तलत अहमद ने इस सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए। विश्वविद्यालय सेना द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न पाठ्यक्रमों को मान्यता देने पर सहमत हो गया है। इससे रक्षाकर्मियों को दूरस्थ शिक्षा के माध्यम से स्नातक, स्नातकोत्तर और डॉक्टेरेट पाठ्यक्रमों में दूसरे और तीसरे वर्ष प्रवेश में सुविधा मिलेगी। सहमति पत्र से सैन्य कर्मियों को बेहतर भविष्य के लिए अपनी शैक्षणिक योग्यता बढ़ाने का अवसर प्राप्त होगा।





इस अवसर पर अपने संबोधन में लेफ्टिनेंट जनरल अश्विनी कुमार ने जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय द्वारा सांस्कृतिक और धार्मिक विविधता का सम्मान करते हुए राष्ट्र निर्माण में विश्वविद्यालय के योगदान का स्मरण किया और देश में सबको साथ चलने की नीति पर जोर दिया।

Comments

Most Popular

To Top