Army

सुरक्षा बलों की जांबाजी से आतंकियों की घटी ‘उम्र’ 

राजील राय भटनागर

नई दिल्ली। घाटी में आतंकी संगठनों में शामिल होने वाले युवाओं की संख्या भले ही बढ़ती प्रतीत हो रही हो लेकिन उनकी ‘उम्र’ घटती जा रही है। पिछले दो वर्ष से भी कम समय में सुरक्षा बलों ने अलग-अलग अभियानों में 360 से ज्यादा आतंकवादी मार गिराये हैं।





एक न्यूज एजेंसी के साथ बातचीत में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के महानिदेशक (DG) राजीव राय भटनागर ने कहा कि आंकड़े भले ही आतंकी संगठनों में शामिल होने वाले युवाओं की बढ़ती तादाद बताएं लेकिन सुरक्षा बल युवाओं को हथियार उठाने से रोकने के लिए हरसंभव कदम उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि आतंकियों की तादाद भले ही ज्यादा हो लेकिन उनका परिणाम सीमित है। वे ज्यादा दिन जी नहीं पाएंगे।

DG भटनागर ने कहा कि ग्लैमर के चक्कर में युवा आतंक का रास्ता पकड़ रहे हैं लेकिन इससे उन्हें कुछ हासिल होने वाला नहीं है। हथियार उठाने वाले युवाओं से हम मुख्यधारा में लौटने के लिए कहते हैं कुछ मुख्यधारा में लौटे भी है। उन्होंने बताया कि राज्य में सक्रिय आतंकियों में कुछ बाहरी हैं तो कुछ गुमराह स्थानीय युवा भी हैं।

सुरक्षा से जुड़े सवालों के बारे में CRPF प्रमुख ने कहा कि जवानों की सुरक्षा का स्तर फुल बॉडी प्रटेक्टर, बुलेट प्रूफ गाड़ियों और विशेष बख्तरबंद गाड़ियों के माध्यम से बढ़ाया गया है। फिलहाल राज्य में CRPF के 60 हजार से ज्यादा जवान और अधिकारी तैनात हैं। राज्य पुलिस, CRPF औऱ सेना के तालमेल से बेहद कामयाबी मिली है। इस वर्ष अब तक 142 आतंकियों को ढेर किया जा चुका है। पिछले वर्ष 220 से ज्यादा आतंकी मुठभेड़ों में मारे गये थे।

 

Comments

Most Popular

To Top