Army

सेना भर्ती में अब नहीं चलेगी धांधली, पढ़िए-इस नए नियम को

सेना भर्ती

नई दिल्ली: अगर आप भारतीय सेना में शामिल होना चाहते हैं और वह भी धांधली करके तो यह खबर आपको सावधान करने वाली है। दरअसल, अब भर्ती के नियमों में बदलाव किया गया है। नए नियम के मुताबिक, अब सेना में फर्जी दस्तावेजों के सहारे नियुक्ति नहीं हो सकेगी।





सेना में भर्ती पाने वाले शातिर युवकों पर अब ज्वाइनिंग से पहले ही शिकंजा कसा जाएगा। सेना पहले दस्तावेजों की खुद जांच कराएगी, उनके सही मिलने पर ही नियु्क्ति पत्र जारी करेगी। इससे पहले अभ्यर्थी सेना में भर्ती हो जाते थे बाद में यदि संदेह होता था तो उनके दस्तावेजों की जांच की जाती थी लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। सारे दस्तावेजों की जांच अब भर्ती से पहले ही की जाएगी।

अभी तक होता यह था कि सेना की खुली भर्ती में अपने जरूरी दस्तावेज प्रस्तुत करने के बाद आवेदक दौड़, मेडिकल और लिखित परीक्षा पास कर लेते थे। इसके बाद उनको ज्वाइनिंग लेटर देकर विभिन्न यूनिटों में तैनात कर दिया जाता था। लेकिन बाद में प्रमाणपत्रों से संबंधित शिकायत मिलने या संदेह होने पर उनकी जांच करवाई जाती थी।

दस्तावेज फर्जी मिलने पर उसके खिलाफ कार्रवाई की जाती थी, लेकिन ऐसे वाकये सामने आने पर सेना फजीहत महसूस करती थी। इन्ही बातों को ध्यान में रखते हुए सेना मुख्यालय के निर्देश के बाद अब चंडीगढ़, हरियाणा व हिमाचल में भर्ती प्रक्रिया आपरेट करने वाला क्षेत्रीय भर्ती मुख्यालय पूरी तरह से सतर्क हो गया है।

गौरतलब है कि देश भर में ऐसे कई मामले सामने आए, जब युवकों ने सेना की खुली भर्ती में शामिल होने के लिए दलालों से विभिन्न तरह के फर्जी दस्तावेज तैयार करा लिए थे। इनमें मुख्यत: आवेदक का डोमिसाइल (शहर व घर के पते की तहसील से तस्दीक), शैक्षणिक प्रमाण पत्र, स्कूल लिविंग सर्टिफिकेट, ट्रांसफर सर्टिफिकेट व स्पोर्ट्स सर्टिफिकेट आदि होते थे।

Comments

Most Popular

To Top