Army

आर्मी डे पर ‘सेल्यूट द सोल्जर’ बुकलेट का प्रकाशन

नई दिल्ली। ‘सेल्यूट द सोल्जर’-यह नाम है एक पुस्तिका (बुकलेट) का, लेकिन यह सिर्फ एक पुस्तिका नहीं है अभियान है। यह सेना के अनुभवी और वरिष्ठ अधिकारी का अनूठा प्रयास है। वर्ष 2011 में इसे पहली बार भारतीय थल सेना दिवस के अवसर पर सह-पाठ्य पुस्तिका के रूप में प्रकाशित किया गया था। तब से लेकर अब तक यह प्रति वर्ष एक अलग विषय के रूप में प्रकाशित की जा रही है।





इसके प्रकाशन का उद्देश्य भारतीय नागरिकों में एक सैनिक के गुणों तथा उनके वीरोचित योगदान पर जागरूकता बढ़ाना है। इसका एक उद्देश्य और लक्ष्य यह भी है कि अवकाश प्राप्त सैन्यकर्मियों की निष्ठा और उनके कौशल को दोबारा कैरियर के रूप में पुनर्स्थापित किया जा सके। क्योंकि मौजूदा हालात में अवकाश प्राप्त सैन्यकर्मियों में गरिमापूर्ण रोजगार न मिलने के कारण असंतोष व्याप्त हो रहा है। इसी के मद्देनजर यह संगठन इस प्रयास में लगा है कि उन्हें सम्मानजक रोजगार दिलाने में मददगार बने।

पुस्तिका में मेजर जनरल हर्ष कक्कड़ (सेवा निवृत्त) ने सेना की बातों संजीदा होकर बड़े करीने से बताया है। पुस्तिका का ले आउट और प्रकाशन उम्दा है। चित्रों के संयोजन ने बुकलेट को और बेहतर बनाने में मदद की है।

Comments

Most Popular

To Top