Forces

राष्ट्रपति कोविंद ने करगिल जाकर रणबांकुरों को किया नमन

द्रास में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद

नई दिल्ली। राष्ट्रपति और तीनों सेनाओं के अध्यक्ष रामनाथ कोविंद ने करगिल विजय दिवस के 20 साल पूरे होने पर श्रीनगर के बादामी बाग स्थित चिनार कोर मुख्यालय में करगिल युद्ध स्मारक स्थल पर शहीदों को नमन किया। इस अवसर पर उनके साथ  राज्यपाल सत्यपाल मलिक और अन्य अधिकारी मौजूद थे। खराब मौसम की वजह से राष्ट्रपति का द्रास द्वारा अंतिम समय में रद्द हो गया। उधर प्रधानमंत्री ने भी विजय दिवस पर शहीदों को याद किया। दिल्ली में केंद्रीय रक्षा मंत्री ने राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर शहीदों को श्रद्धांजलि दी।





राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि करगिल विजय दिवस हमारे कृतज्ञ राष्ट्र के लिए 1999 में करगिल की चोटियों पर अपने सशस्त्र बलों की वीरता का स्मरण करने का दिन है।

हम इस अवसर पर भारत की रक्षा करने वाले योद्धाओं के धैर्य व शौर्य को नमन करते हैं। हम सभी शहीदों के प्रति आजीवन ऋणी रहेंगे।

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज करगिल विजय दिवस पर चार तस्वीरें ट्वीटर पर साझा की हैं। उन्होंने कहा कि करगिल युद्ध के समय मुझे सेना के जवानों के साथ एकता भाव को दिखाने का मौका मिला। इस दौरान मैं पार्टी के लिए जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में काम कर रहा था। करगिल जाकर सेना के जवानों के बीच बातचीत करना हमेशा अविस्मरणीय है।

Comments

Most Popular

To Top