NDRF

बाढ़ और भारी बारिश से निपटने के लिए NDRF की टीमें तैयार

NDRF
NDRF की टीम राहत-बचाव करते (फाइल फोटो)

नई दिल्ली। मानसून के दौरान बाढ़ और भारी बारिश से निपटने के लिए देश के विभिन्न हिस्सों में NDRF की 89 टीमों को विशेष रूप से कार्य करने के लिए तैनात किया गया है। इनमें से 45 टीमें उन विभिन्न बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में तैनात की गई हैं जहां अक्सर ही ज्यादा बारिश और बाढ़ का अंदेशा रहता है। जैसे असम में 12, अरुणाचल में 3, बिहार में 7, गुजरात में 4, हिमाचल प्रदेश में 1, जम्मू-कश्मीर में 4, नई दिल्ली में 2, पंजाब में 2, सिक्किम में 1, त्रिपुरा में 1, उत्तर प्रदेश में 1, उत्तराखंड में 4 और पश्चिम बंगाल में तीन।





आपातकालीन स्थितियों से निपटने के लिए NDRF टीमें सक्षम हैं और आपदा राहत के अत्याधुनिक उपकरणों से लैस हैं। आपदाओं के दौरान संचार व्यवस्था स्थापित करने के लिए इन टीमों के पास आधुनिक संचार उपकरण भी हैं।

NDRF सामान्य स्थिति में भी तरह-तरह के सामुदायिक जागरुकता कार्यक्रम आयोजित करती रहती है। जैसे बाढ़ आपदा प्रबंधन, स्कूल सुरक्षा कार्यक्रम और mock exercises आदि। इन अभ्यासों के द्वारा टीम बताती रहती है कि बाढ़ के दौरान तथा बाद में क्या करें और क्या न करें। साथ ही तैयारी के लिए जरूरी संसाधन, सांप से डसने का प्रबंधन, अस्पताल पहुंचने के पहले उपचार, आपदा के दौरान सुरक्षा उपायों पर चर्चा करती है। NDRF की टीमों ने मानसून के दौरान 13,350 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है।

Comments

Most Popular

To Top