Forces

नेवी के 2017 के 11 बादशाह : कोई किया गया शामिल, तो कोई हुआ बाहर

भारतीय नौसेना के लिए वर्ष 2017 काफी अच्छा रहा। इस साल नए जहाज़ों और पनडुब्बियोंको जहां भारतीय नौसेना में कमीशन किया गया। वहीँ कई जहाजों और नौसेना के वायुयान को रिटायर किया गया। नौसेना के विकास के रूप में देखें तो साल 2017में इंडियन नेवी ने कई बड़ी उपलब्धियां हासिल कीं। इस साल स्वदेशी युद्धपोत का निर्माण कर एक बड़ी कामयाबी पाई। नेवी की युद्धक क्षमता में भी इस साल काफी इजाफा हुआ। साल के अंत में आइये नजर डालते हैं कि नौसेना में किसे किया गया कमीशन और कौन हुआ बाहर :





आईएनएस ‘किलटान’ की कमीशनिंग

भारतीय नौसेना के बेड़े में 16 अक्टूबर 2017 को अत्याधुनिक युद्धपोत आईएनएस किलटान  रक्षा मंत्री द्वारा कमीशन किया गया। यह युद्धपोत पानी के भीतर पनडुब्बी को मार गिराने में सक्षम है। शिपयार्ड प्रोजेक्ट-28 के अंतर्गत बनने वाला आईएनएस किलटान, शिवालिक क्लास, कोलकाता क्लास और आईएनएस कोमार्ता के बाद चौथा स्वदेशी निर्मित युद्धपोत है। INS किलटान को कोलकाता के गार्डन रीच शिपबिल्डिंग एडं इंजीनियरिंग में बनाया गया है। जहाज का निर्माण ‘मेक इन इंडिया’ का अहम हिस्सा है। यह शिप स्वदेशी अत्याधुनिक हथियारों और सेंसर से युक्त है, जिसमें हेवीवेट टॉरपीडो, एएसडब्ल्यू रॉकेट, 76 एमएम कैलिबर मिडियम रेंज बंदूक और दो मल्टीबैरल 30 एमएम बंदूकें शामिल हैं, साथ ही अग्निशमन नियंत्रण प्रणाली, उन्नत ईएसएम (इलेक्ट्रॉनिक सपोर्ट मेजर) सिस्टम, सबसे उन्नत सोनार और रडार को इंस्टॉल किया गया है। भारत का यह पहला युद्धपोत है , जिसे कार्बन फाइबर कंपोजिट मैटेरियल से बनाया गया है, जिससे इसे बनाने में कम खर्च आता है।

Comments

Most Popular

To Top