Navy

Special Report: समुद्री आसमान पर युद्ध में भारतीय नौसेना को नई ताकत

मीडियम रेंज सर्फेस टू एयर मिसाइल (MRSAM)

नई दिल्ली।  मीडियम रेंज सर्फेस टू एयर मिसाइल (MRSAM) का भारतीय नौसेना ने सफल परीक्षण कर समुद्री आसमान पर युद्ध लड़ने औऱ अपने युद्धपोतों को हवाई हमलों से बचाने की असाधारण क्षमता का परिचय दिया।





इस मिसाइल का विकास इजराइल के सहयोग से भारतीय रक्षा शोध एवं विकास संगठन (DRDO)  ने किया है।  करीब 70 किलोमीटर दूर तक मार करने वाली यह मिसाइल दुश्मन की किसी भी मिसाइल या लड़ाकू विमान को नष्ट कर सकती है।

इस मिसाइल का परीक्षण भारतीय नौसेना के पश्चिमी तट पर युद्धपोतों कोच्चि और चेन्नई पर किया गया। दोनों  युद्धपोतों पर तैनात मिसाइलों का नियंत्रण एक पोत से किया गया। इस पोत से हमलावर मिसाइल को बीच में ही रोका गया। इस परीक्षण को नौसेना ने डीआरडीओ और इजराइली एरोस्पेश इंडस्ट्री के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में किया।

इस तरह की मिसाइल को कोलकाता वर्ग के विध्वंसक पोतों पर तैनात किया गया है और इन्हें भारतीय नौसेना के भविष्य में शामिल होने वाले पोतों पर तैनात किया जाएगा।

इस सफल परीक्षण से भारतीय नौसेना दुनिया की उन चुनिंदा नौसेनाओं में शामिल हो गई है जो इस तरह की क्षमता से लैस है। इस क्षमता के बीच समुद्र में भारतीय युद्धपोतों की लड़ाकू क्षमता में भारी इजाफा होगा। इससे दुश्मन के युद्धपोतों पर भारतीय युद्धपोत हावी हो सकेंगे।

Comments

Most Popular

To Top