Navy

Special Report: भारतीय नौसेना प्रमुख लांबा थाईलैंड के दौरे पर

नौसेना प्रमुख सुनील लांबा

नई दिल्ली। नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा थाइलैंड के तीन दिनों के दौरे पर बुधवार को बैंकाक रवाना होंगे। यहां नौसैनिक प्रवक्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया कि इस दौरे से भारत और थाईलैंड के बीच समुद्री सहयोग के रिश्ते और प्रगाढ़ होंगे। इस दौरे से दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग के नये रास्ते भी पता किये जाएंगे।





थाईलैंड दौरे में नौसेना प्रमुख थाईलैंड के रक्षा बलों के प्रमुख जनरल पोनिपात बेनयासरी और शाही थाई नौसेना के कमांडर इन चीफ एडमिरल लुचाई रुडिट के अलावा अन्य आला सरकारी अधिकारियों से भी मिलेंगे।

दिवपक्षीय बातचीत के अलावा एडमिरल लांबा बैंकाक  में रॉयल थाई नेवी और रॉयल थाई आर्म्र्ड फोर्सेज के मुख्यालय का भी दौरा करेंगे। भारत और थाईलैंड के बीच कई शताब्दी पुराने  एतिहासिक रिश्ते रहे हैं। दोनों देशों के बीच 1947 में औपचारिक राजनयिक रिश्ते स्थापित हुए। पिछले सालों में दोनों देशों के बीच रक्षा सम्बन्ध गहरे  होते गए हैं । दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग के सहमति के ज्ञापन पर 2012 में दस्तखत हुए थे।

दोनों देशों के बीच रक्षा सम्बन्धों को मजबूत करने के लिये सालाना उच्चस्तरीय रक्षा वार्ता चल रही है। इसकी सातवीं बैठक मार्च, 2019 में नई दिल्ली में हुई थी। भारतीय नौसेना थआई नौसेना के साथ कई मोर्चे पर सहयोग करती रही है। इसमें आपरेशनल आदान प्रदान, ट्रेनिंग आदान-प्रदान और हाइड्रोग्राफिक सहयोग शामिल है। दोनों देशौं के बीच नौसैनिक स्तर पर स्टाफ वार्ता का सिलसिला भी शुरु हुआ जिसकी 11वीं बैठक गत मार्च में नई दिल्ली में हुई।

गौरतलब है कि रॉयल थाई नेवी हिंद महासागर नेवल सिम्पोजियम का सदस्य भी है। थाईलैंड इस सिम्पोजियम के तीन दलों में सक्रिय भाग लेता है। ये दल हैं मानवीय सहायता दल, समुद्री सुरक्षा और सूचना आदान-प्रदान से सम्बन्धित है।

Comments

Most Popular

To Top