ICG

जानिए भारतीय तटरक्षक (INDIAN COAST GUARD) के बारे में

भारतीय तटरक्षक समुद्र की सुरक्षा करने के उद्धेश से इनका गठन एक स्वतंत्र सशस्त्र बल के रूप में संसद द्वारा तटरक्षक अधिनियम, 1978 के अंतर्गत की गई। भारतीय तटरक्षक की कमान महानिदेशक वाइस एडमिरल के हाथ में होता है।

गठन- 18 अगस्त, 1978





भारतीय तटरक्षक की संख्या- 5,440

सिद्धांत- वयम् रक्षाम:

हेडक्वार्टर- नई दिल्ली

भारतीय तटरक्षक (INDIAN COAST GUARD) का गठन समुद्र की सुरक्षा करने के उद्देश्य से एक स्वतंत्र सशस्त्र बल के रूप में संसद द्वारा तटरक्षक अधिनियम, 1978 के अंतर्गत किया गया। भारतीय तटरक्षक की कमान महानिदेशक वाइस एडमिरल के हाथ में होती है।

भारतीय नौसेना के तहत काम करने वाले भारतीय तटरक्षक बल को गैर सैन्य समुद्री सेवाएं प्रदान करने के लिए बनाया गया। भारत में समुद्र के रास्ते तस्करी रोकने से संबंधित, भारतीय सीमा शुल्क विभाग को गश्त में मदद और तस्करी के प्रयास को रोकने में सहायता मुहैया कराना है। यह बल पांच क्षेत्रों में तैनात है। प्रत्येक क्षेत्र का नेतृत्व ‘इंस्पेक्टर जनरल’ रैंक के अधिकारी करते हैं।

वेस्टर्न रीजन (W)          मुंबई 

ईस्टर्न रीजन (E)           चेन्नई

नॉर्थ-ईस्ट रीजन (NE)       कोलकाता

अंडमान और निकोबार (A&N) पोर्ट ब्लेयर

Comments

Most Popular

To Top