Navy

नौसेना प्रमुख पहुंचे इजरायल डिफेन्स फ़ोर्स के मुख्यालय

नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा

नई दिल्ली। चीफ आफ स्टाफ कमिटी (COSC) के चेयरमैन और नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा आज तीन दिन यात्रा पर इजरायल पहुंचे। आज उन्होंने वहाँ रक्षा मंत्रालय के महानिदेशक मेजर जनरल उडी अदम से बातचीत की। उनके दौरे से दोनों देशों के बीच जारी उच्च स्तरीय रक्षा आदान-प्रदान को और अधिक मज़बूती मिलेगी।





दोनों देशों के सशस्त्र बलों के बीच अधिक सहयोग के लिए रास्ते तलाशने के लिए एडमिरल सुनील लांबा ने आज इज़राइली डिफेंस फोर्स के चीफ ऑफ जनरल स्टाफ लेफ्टिनेंट जनरल गाडी एसेनकोट से मुलाकात करने के साथ द्विपक्षीय चर्चा की।

नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा

नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा ने इजरायल में रक्षा मंत्रालय के महानिदेशक मेजर जनरल उडी अदम से मुलाक़ात की

नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा

नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा इजरायल डिफेन्स फ़ोर्स के चीफ आफ द जनरल स्टाफ Lt Gen Gadi Eisenkot से मुलाक़ात की

नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा

इजरायल डिफेन्स फ़ोर्स के मुख्यालय पर नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा

वह इज़राइली नौसेना के कमांडर-इन-चीफ, वायुसेना के कमांडर, ग्राउंड बलों के कमांडर और रक्षा मंत्रालय के अन्य अधिकारियों से मुलाकात करेंगे। इसके अलावा एडमिरल हैफा नेवल बेस और अन्य इजरायली वायु सेना और सेना प्रतिष्ठानों का दौरा करेंगे। एडमिरल सुनील लांबा की यात्रा से दोनों देशों के बीच सशस्त्र सेना सहयोग और अधिक मजबूत होगा।

  • उल्लेखनीय है कि भारत के इज़राइल से संबंध 17 सितंबर 1950 में भारत के इज़राइल को मान्यता देने से शुरु हुए थे। 1992 में औपचारिक राजनयिक संबंधों के नवीकरण के बाद से रक्षा सहयोग दो देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों के मुख्य स्तंभों में से एक रहा है।

वर्षों से दोनों देशों के बीच रक्षा संबंध परस्पर विश्वास और आत्मविश्वास के चलते परिपक्व हुए हैं। भारत इज़राइल से महत्वपूर्ण रक्षा प्रौद्योगिकी आयात करता है। इसके अलावा दोनों सशस्त्र बल और एमओडी स्टाफ वार्ता, संयुक्त कार्य दल और उच्च स्तरीय यात्राओं के आदान-प्रदान के माध्यम से सहयोग कर रहे हैं।

Comments

Most Popular

To Top