DEFENCE

इजरायल भारतीय नौसेना को देगा मिसाइल रक्षा प्रणाली

रक्षा प्रणाली की आपूर्ति का ठेका

तेलअवीव। भारतीय नौसेना (Indian Navy) अपने चार जलपोतों के लिए इजरायल से वायु एवं मिसाइल रक्षा प्रणाली (Defence Missile System) खरीद रही है। इसके लिए भारत इजरायल की सरकारी कंपनी एयरो स्पेश इंडस्ट्रीज को 630 मिलियन डॉलर का एक अतिरिक्त ठेका देगा। यह जानकारी एयरो स्पेश इंडस्ट्रीज सूत्रों ने दी है।





एक समाचार एजेंसी के अनुसार, इजरायली कंपनी भारत की सरकारी कंपनी भारत इलेक्ट्रोनिक्स लिमिटेड (BEL) के साथ पहली बार इस तरह का अनुबंध करेगी। विदित है कि मेक इन इंडिया नीति के तहत भारत इलेक्ट्रोनिक्स लि. इस परियोजना में मुख्य ठेकेदार है।

बराक-8

बराक-8

लंबी दूरी की मिसाइल बराक-8 (फाइल फोटो)

उल्लेखनीय है कि गत सप्ताह भारतीय नौसैनिक जहाज से लंबी दूरी की मिसाइल बराक-8 का सफल परीक्षण किया गया था। परीक्षण के दौरान पहले हवाई खतरे को चिन्हित किया गया और इसके बाद प्रक्षेपास्त्ररोधी प्रक्षेपास्त्र छोड़ कर उसे हवा में नष्ट कर दिया गया था। बराक-8 ख़ास तकनीक MF-STAR (मल्टीफंक्शन सर्विलांस एंड थ्रेट अलर्ट रडार) से लैस है। इसका डाटा लिंक वेपन सिस्टम अधिकतम 100 किमी की रेंज तक दुश्मन की मौजूदगी भांपकर use 70 किमी के दायरे में तबाह कर देता है। विशेषज्ञों का मानना है कि इससे भारत की हवाई सुरक्षा खामियों को भरने में मदद मिलेगी।

वैसे इस साल अप्रैल महीने में इजरायल की एयरो स्पेश इंडस्ट्रीज ने भारतीय सेना और नौसेना को मिसाइल रक्षा प्रणाली उपलब्ध कराने के लिए दो अरब डॉलर मूल्य के एक अनुबंध पर दस्तखत किया था। इजरायल भारत के तीन प्रमुख हथियार आपूर्तिकर्ता देशों में से एक है।

Comments

Most Popular

To Top