International

भारत, US और जापान का संयुक्त युद्धाभ्यास

हिंद महासागर में भारत

नई दिल्ली। चीन के साथ लगातार बढ़ते विवाद के बीच आज (10 जुलाई) हिंद महासागर में भारत, अमेरिका और जापान ने युद्ध अभ्यास शुरू कर दिया है। भारत जहां पिछले कुछ दिनों से चीन पर आक्रामक रुख बनाए हुए है। वहीँ, तीन देशों का एकसाथ संयुक्त अभ्यास शुरू हो गया है। इस युद्ध अभ्यास को ‘ऑपरेशन मालाबार’ नाम दिया गया है, तीनों देशों के इस अभ्यास को चीन मीडिया ने अपने लिए एक खतरा बताया है।





भारत, अमेरिका और जापान के बीच हिंद महासागर में होने वाला ये सैन्य अभ्यास हालांकि हर साल ही होता है, लेकिन इस बार इस युद्धाभ्यास की धमक चीन को बेचैन कर रही है।बता दें कि मालाबार अभ्यास अभी तक का सबसे बड़ा नौसेनिक युद्धाभ्यास है। भारत अमेरिका और जापान के जंगी बेड़े और लड़ाकू विमानों के साथ चेन्नई के तट के करीब होने वाला ये अभ्यास दुश्मनों को दहलाने वाला है, क्योंकि इस अभ्यास के दौरान लगभग 20 जंगी जहाज और दर्जनों फाइटर जेट्स द्वारा किए जाने वाले युद्धाभ्यास की गर्जना बीजिंग तक सुनाई देने वाली है।

सात दिन तक चलेगा अभ्यास

हाल ही में दक्षिण चीन सागर में अमेरिका के बमवर्षक विमानों ने जापान के साथ मिलकर युद्धाभ्यास किया था अमेरिका का कहना है कि ये युद्धाभ्यास उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण का करार जवाब था। आज से शुरू हिन्द महासागर में होने वाला यह अभ्यास 17 जुलाई तक चलेगा, एक्सरसाइज में तीनों देशों की नौसेना शामिल हैं।

पहली बार युद्धाभ्यास में शामिल होगा INS विक्रमादित्य

तीनों देशों की नौसेना चेन्नई तट से लेकर बंगाल की खाड़ी तक ये एक्सरसाइज करेंगी, जिसमें 20 जंगी जहाज के साथ दर्जनों फाइटर जेट्स, 2 सबमरीन, टोही विमान शामिल होंगे। भारत की ओर से इस अभ्यास का सबसे बड़ा आकर्षण होगा विमानवाहक आईएनएस विक्रमादित्य, 2013 में भारतीय नौसेना में शामिल होने के बाद मिग-29 फाइटर जेट्स से लैस आईएनएस विक्रमादित्य इस तरह के पूर्ण सैन्य अभ्यास में पहली बार शामिल हो रहा है।

Comments

Most Popular

To Top