Air Force

माउंट विनसन की चोटी को फतह करेंगे भारतीय वायु सेना के जांबाज

एयर चीफ मार्शल

नई दिल्ली। वायु सेना के पांच पर्वतारोहियों का एक दल 13 दिसंबर को माउंट विनसन (4897 मीटर) में चढ़ाई करने का साहस करेगा। इस अभियान दल को वायु सेना अध्‍यक्ष एयर चीफ मार्शल बी.एस. धनोआ ने शुक्रवार को रवाना किया।





टीम का नेतृत्‍व ग्रुप कैप्‍टन आर.सी. त्रिपाठी वीएम (जी) कर रहे हैं, जिन्‍होंने ‘मिशन सेवन समिट्स’ सहित वायु सेना के अनेक अभियानों का नेतृत्‍व किया है। इस दल ने हाल ही में 24 नवम्‍बर से 3 दिसंबर तक लेह और सियाचिन में अभियान पूर्व प्रशिक्षण पूरा किया तथा अब सुदूरवर्ती अंटार्कटिका में पर्वतारोहण अभियान की चुनौती को हाथ में लिया है।

माउंट विनसन पर सफलतापूर्वक चढ़ाई करने पर वायु सेना भारत का ऐसा पहला संगठन होगा, जो यह अनोखी उपलब्धि हासिल करेगा। भारतीय वायु सेना के पर्वतारोहियों के एक दल ने छह महाद्वीपों की सर्वोच्‍च चोटियों पर सफलतापूर्वक चढा़ई की है और अब ‘मिशन सेवन समिट्स’ को पूरा करने के लिए अंटार्कटिका में माउंट विनसन पर यह अभियान समाप्‍त होगा।

वर्ष 2005 में माउंट एवरेस्‍ट पर चढ़ाई करने के बाद, भारतीय वायु सेना ने पर्वतारोही अभियान ‘मिशन सेवन समिट्स’ नाम से एक अनोखी और अभूतपूर्व श्रृंखला शुरू की, जिसका उद्देश्‍य प्रत्‍येक महाद्वीप की शीर्ष चोटियों पर तिरंगा और भारतीय वायु सेना का झंडा फहराना है।

वायु सेना अपने जवानों के बीच साहसिक गतिविधियों बढ़ावा देती है। वर्ष 2011 में महिलाओं के एक दल ने माउंट एवरेस्‍ट पर सफलतापूर्वक चढ़ाई की और 2017 में वायु सेना-सीमा सुरक्षा बल के महिला ऊंट अभियान दल ने 47 दिनों में पश्चिमी सीमा पर 1386 किलोमीटर की दूरी तय की। वायु सेना पर्यावरण की रक्षा के लिए भी प्रतिबद्ध है।

Comments

Most Popular

To Top