Army

सेना को मुहैया होगी स्वदेशी अत्याधुनिक बुलेट प्रूफ जैकेट

स्वदेशी अत्याधुनिक बुलेट प्रूफ जैकेट
स्वदेशी अत्याधुनिक बुलेट प्रूफ जैकेट पहने जवान (प्रतीकात्मक)

नई दिल्ली। रक्षा मंत्रालय ने सेना को हल्की और अत्याधुनिक बुलेट प्रूफ जैकेट सौदे पर हस्ताक्षर किए हैं। रक्षा मंत्रालय ने देश की निजी क्षेत्र की एक कंपनी से 639 करोड़ रुपये की लागत से पौने दो लाख से ज्यादा जैकेट की खरीद की हामी भर दी है। रक्षा मंत्रालय का कहना है कि इन जैकेटों का पिछले कुछ समय से परीक्षण किया जा रहा था जो सफल रहा है और इसके बाद इनकी खरीद के समझौते को अंतिम रूप दिया गया है।





भारत सरकार की मेक इन इंडिया योजना के तहत किए गए इस सौदे को घरेलू उद्योगों को बढ़ावा दिए जाने की दिशा में बड़े कदम के रूप में देखा जा रहा है। ये जैकेट निजी कंपनी एसएमपीपी से खरीदी जाएगी जो इस प्रकार की जैकेट वायुसेना, नौसेना तथा तथा पैरामिलिट्री को पहले से बेच रही है। ये जैकेट पूरी तरह से अत्याधुनिक हैं और जवानों शरीर को अधिक से अधिक कवर प्रदान करेंगी। मॉड्यूटर पार्ट्स से बनी होने की वजह से ये लचीली हैं और पहनने में सुविधाजनक और आसान भी है।

ये जैकेट विभिन्न ऑपरेशन और मुठभेड़ आदि में सैनिकों को 360 डिग्री की रक्षा मुहैया कराएगी। सेना के पास इस तरह की जैकेटों की कमी का मुद्दा लंबे से उठाया जा रहा था और सरकार की प्राथमिकता की सूची में था। ये जैकेट्स मिलने से जहां जवानों को सुरक्षा तो मिलेगी ही उनके मनोबल में इजाफा भी होगा।

रक्षक न्यूज की राय:

रक्षा मंत्रालय का यह एक त्वरित कदम है। सेना में जैकटों की कमी पहले से ही महसूस की जा रही थी, अब स्वदेशी बुलेट प्रूफ जैकेट मिलने से सैन्यकर्मी बढ़े मनोबल के साथ अपने कर्तव्य का पालन और बेहतर ढंग से कर पाने में सक्षम होंगे। मेक इन इंडिया कार्यक्रम के तहत यह एक अच्छी पहल है जो भविष्य में भी जारी रहनी चाहिए।

Comments

Most Popular

To Top