Army

भारतीय सेना ने पिछले साल ऑपरेशन के दौरान 138 पाकिस्तानी सैनिक मार गिराए

भारतीय सेना

नई दिल्ली। भारतीय सेना की तरफ से 2017 के रणनीतिक ऑपरेशन में पाकिस्तान को जबरदस्त नुकसान झेलना पड़ा और उसके 138 जवान मारे गए। हालांकि, सूत्रों के मुताबिक जम्मू-कश्मीर में सीमा पार से गोलीबारी के बाद जवाबी कार्रवाई और रणनीतिक ऑपरेशन में जहां पाकिस्तान को भारी नुकसान हुआ तो दूसरी तरफ इसी दौरान भारतीय सेना के 28 जवान भी नियंत्रण रेखा पर शहीद हो गए।





जानकारों के मुताबिक पाकिस्तानी आर्मी इतनी संख्या में अपने सैनिकों के हताहत की बात नहीं मानती और कुछ केस में सैनिकों की मौत को नागरिक की क्षति करार दिया। गत एक साल के दौरान भारतीय सेना की ओर से संघर्ष विराम उल्लंघन और जम्मू कश्मीर में आतंकी गतिविधियों के खिलाफ काफी कड़ा रूख अपनाया गया है। मीडिया में आई खबरों के मुताबिक वर्ष 2017 में सीमा पार से गोलीबारी के खिलाफ जवाबी कार्रवाई और रणनीतिक ऑपरेशन में पाकिस्तानी सेना के 138 जवान मारे गए जबकि 155 जख्मी हुए। जबकि, इस दरम्यान 70 भारतीय सैनिक भी सीमा पार से हुई गोलीबारी और अन्य घटनाओं में घायल हुए।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार वर्ष 2017 में कुल 860 सीजफायर उल्लंघन के मामले सामने आए जबकि 2016 में ये मामले सिर्फ 221 थे। सूत्रों के मुताबिक, ऐसा प्रतीत होता है कि पाकिस्तान की ये नीति है कि वह अपने सेना के जवानों की मौत को स्वीकार न करे। उन्होंने करगिल की भी मिसाल दी जब भारत की ओर से सबूत देने के बावजूद पाकिस्तान ने अपनी सेना की मौत से इनकार कर दिया था।

सूत्रों ने यह भी बताया कि पिछले साल 25 दिसंबर को जब पांच सेना के कमांडो ने जम्मू-कश्मीर में LoC पार कर तीन पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया था उस समय पाकिस्तान की ओर से इसे मानते हुए ट्वीट किया गया था लेकिन बाद में उसे डिलीट कर दिया गया था।

Comments

Most Popular

To Top